इस तरह से खाते हैं नॉनवेज तो हो जाएं सावधान

पेरिस (22 दिसंबर): यदि आप नॉनवेज खाने के शौकिन हैं और पैक्ड नॉनवेज खाते हैं तो आप सावधान हो जाएं। एक रिसर्च के मुताबिक पैक्‍ड नॉनवेज फूड यानि डब्‍बाबंद फूड खाने से आपको अस्‍थमा की प्रॉब्‍लम हो सकती है और यदि आपको पहले से ही अस्‍थमा की दिक्‍क्‍त है तो ये प्रॉब्‍लम और बढ़ सकती है।

रिसर्च के मुताबिक प्रिसरवेटिव नॉनवेज में नाइट्राइट की मात्रा बहुत ज्यादा होती है, जिससे ब्रीदिंग ट्यूब में स्‍वैलिंग हो सकती है, जो अस्थमा की इनिशियल स्‍टेज है। साथ ही रिसर्च से पता चलता है कि ऐसे व्यक्ति जो हफ्ते में चार या इससे अधिक बार पैक्‍ड नॉनवेज का सेवन करते हैं, उनमें अस्थमा की समस्या होने का खतरा 76 फीसदी अधिक होता है। इससे सांस लेने में दिक्कत, सीने में टाइटनेस और दूसरी परेशानियां हो सकती हैं।

पेरिस के पॉल ब्रोउसे अस्पताल के जेन ली ने कहा कि यह रिसर्च प्रिसरवेटिव नॉनवेज के सेवन से हेल्थ पर पड़ने वाले हानिकारक प्रभाव और अस्थमा के एडल्‍ट पेशेंट्स में डायट के इफेक्‍ट के बारे में बताता है। यह डायट से अस्थमा के जुड़े होने की भूमिका और BMI के संदर्भ में एक नई एनालिटिकल एप्रोच देता है।

रिसर्च में 971 अस्थमा के एडल्‍ट पेशेंट्स (49% पुरुष) पर ट‍ेस्ट की गई। इन मरीजों से उनके द्वारा लिए जाने वाली डायट के संबंध में कई स्‍टेप्‍स में प्रश्न पूछे गए। इन प्रश्नों में 46 खाद्य समूहों की 118 खाद्य सामग्रियों को शामिल किया गया था। इसमें प्रिसरवेटिव नॉनवेज के सेवन को कम (हफ्ते में एक बार), मध्यम (हफ्ते में चार बार) और उच्च (हफ्ते में चार या उससे अधिक) तीन हिस्सों में बांटा गया।

रोचक बात यह है कि अस्थमा के लिए अधिक वजन या मोटापा को नुकसानदायक माना जाता है, लेकिन इस रिसर्च के अनुसार नॉनवेज के सेवन और अस्थमा की शिकायत बढ़ने में यह सिर्फ 14 फीसदी मामलों में ही सही साबित हुआ। इससे साफ है कि अस्थमा की शिकायत बढ़ने में नॉनवेज के सेवन का सीधा प्रभाव होता है।