सऊदी अरब में बदलाव की बयार- अब जेद्दाह की मस्जिदों में जा सकेंगे गैर मुस्लिम

नई दिल्ली (31 मई):  मदीना में गैर मुस्लिमों का प्रवेश शरिया के खिलाफ नहीं है। मुसलमानों की  तरह वो भी मदीना आ सकते हैं और मस्जिदों में जा सकते हैं। ये बयान 'उम्मीद डॉट कॉम'में मदीना की क़ूबा मस्जिद के इमाम शेख सालेह अल मिगमासी के हवाले से प्रकाशत किया गया है। इसी बयान के बाद सऊदी अरब ने जेद्दा की चार मस्जिदों में गैर मुसलमानों को प्रवेश की अनुमति दे दी है। समाचार चैनल 'अल अरबिया' के मुताबिक, इसका मुख्य उद्देश्य गैर मुसलमानों को इस्लामिक सभ्यता से परिचित कराना है।

सऊदी अरब ने गैर मुसलमानों के धार्मिक स्थल मक्का शहर में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा रखा है। हालांकि, कई इस्लामिक देशों ने पर्यटकों के आकर्षण के लिए गैर मुसलमानों को मस्जिद में प्रवेश की अनुमति दे रखी है। सऊदी अरब का यह फैसला आईएसआईएस जैसे आतंकवादी संगठनों से बिगड़ रही इस्लाम की छवि में सुधार लाने की कोशिश भी मानी जा रही है। सऊदी अरब ने इस्लाम की छवि को कट्टरपंथ से नरमपंथी बनाने की दिशा में बड़े प्रयास शुरु किये हैं। सऊदी के क्राउन प्रिंस का कहना है कि हजारों से जकड़ी हुई व्यवस्थाओँ में एकाएक परिवर्तन नहीं आजाता है। फिर भी सऊदी अरब में बदलाव की बयार तेजी से बह रही है।  ...