विजय माल्या के खिलाफ गैर जमानती वॉरंट

नई दिल्ली (13मार्च): भारत के बिजनैस टायकून से दीवालिया बने विजय माल्या और उनकी कंपनी के चीफ फाइनैंशल ऑफिसर ए. रघुनाथ के खिलाफ हैदराबाद की एक अदालत ने गैर जमानती वॉरंट जारी किए हैं। हैदराबाद के एडिशनल चीफ मेट्रोपोलिटन मैजिस्ट्रेट जीएस रमेश कुमार ने वॉरंट जारी करने के साथ ही पुलिस से कहा कि 13 अप्रैल तक इन दोनों को गिरफ्तार कर कोर्ट के सामने पेश करें।

दरअसल, जीएमआर ने माल्या के चेक बाउंस होने पर उन पर केस चलाने की अपील की थी। एयरपोर्ट के अधिकारियों ने उनकी एयरलाइंस के खिलाफ हैदराबाद में नेगोशिएबल इंस्ट्रुमंट ऐक्ट के तहत 11 केस दर्ज किए थे। कोर्ट ने इससे पहले 10 मार्च को विजय माल्या, सीएफओ और कंपनी के साइनिंग अथॉरिटी को पेश होने के आदेश दिए थे। इनमें से कोई भी कोर्ट में पेश नहीं हुआ।

माल्या के वकील ने पेशी से छूट या कुछ अतिरिक्त समय मांगा था। जीएमआर के वकील ने इस छूट का विरोध किया था और कोर्ट को अटॉर्नी जनरल के एक दिन पहले सुप्रीम कोर्ट में दिए गए बयान के बारे में बताया था कि माल्या के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी होने के बावजूद वह देश से बाहर चले गए हैं।