बुलंदशहर रेप: अखिलेश ने दिया 24 घंटे में गिरफ्तारी का अल्टीमेटम

बलुंदशहर (31 जुलाई): बुलंदशहर में मां बेटी से गैंगरेप मामले में यूपी के डीजीपी जावेद अहमद और प्रधान सचिव गृह ने मौके का किया मुआयना। पीड़ित ने 3 आरोपियों की पहचान की, जिसके बाद सीएम ने अधिकारियों को 24 घंटे में गिरफ्तारी का अल्टीमेटम दिया है।

बुलंदशहर में मां-बेटी के साथ गैंगरेप की घटना ने यूपी की अखिलेश सरकार को हिला कर रख दिया है। मीडिया में खबर आने के बाद हरकत में आई सरकार ने लापरवाही बरतने के आरोप में सीओ सिटी का तबादला कर दिया है। लापरवाही की जांच एसपी क्राइम गाजियाबाद करेंगे। एसएचओ कोतवाली देहात को शनिवार को ही सस्पेंड कर दिया गया था। अब चौकी इंचार्ज, बीट कांस्टेबल, नाइट ड्यूटी इंचार्ज को भी सस्पेंड कर दिया गया है। जांच में 350 पुलिसकर्मियों को लगाया गया है। अपराधियों को पकड़ने के लिए राजस्थान और गुडगांव में छापेमारी की जा रही है। नोएडा, गाजियाबाद की पुलिस भी जांच में जुटी है।

प्रमुख सचिव, डीजीपी को बुलंदशहर पहुंचने के निर्देश दिए गए हैं। एडीजी कानून व्यवस्था को भी बुलंदशहर भेज दिया गया है। सभी अधिकारियों से कहा गया है कि वो अपराधियों की खोज में चलाए जा रहे अभियान पर पैनी नजर रखें। पुलिस ने इस मामले में 15 लोगों को हिरासत में लिया है और मुख्य आरोपी की पहचान कर ली गई है।

गौरतलब है कि नोएडा से शाहजहांपुर कार से जा रहे एक परिवार के साथ हैवानियत को अंजाम दिया। परिवार को कोतवाली देहात के पास 10 से 12 की संख्या में हथियार बंद बदमाशों ने रोका और कार में सवार परिवार को अगवा कर लिया। इसके बाद बदमाश परिवार को हाईवे से करीब 50 मीटर दूर खेतों में ले गए। बदमाशों ने पहले लूटपाट की उसके बाद मां और उसकी बेटी के साथ गैंगरेप को अंजाम दिया।