कोलंबिया के राष्ट्रपति जुआन मैनुअल सांतोस को मिला नोबेल शांति पुरस्कार

नई दिल्ली(7 अक्टूबर):  दुनिया में वैसे तो न जाने कितने ही पुरस्कार दिए जाते हैं लेकिन फिल्मी दुनिया में ऑस्कर और वास्तविक दुनिया में शांति के नोबेल पुरस्कार की चर्चा लंबे समय तक बनी रहती है। साल 2016 के शांति नोबेल पुरस्कार घोषित हो चुके हैं और यह बहुप्रतिक्षित पुरस्कार कोलंबिया के नेता और राष्ट्रपति जुआन मैनुअल सांतोस को मिला है।

- नॉर्वे की राजधानी ओस्लो में पुरस्कार की घोषणा की गई। पुरस्कार 10 दिसंबर को दिए जाएंगे। हालांकि कोलंबिया के राष्ट्रपति को इस बात की सूचना पहले से नहीं थी कि इससे खबर के लीक हो जाने का डर था।

-साल 2016 में शांति के नोबेल पुरस्कार के लिए 376 उम्मीदवार थे  जो कि खुद में एक रिकॉर्ड है। इनमें से 228 व्यक्ति थे तो वहीं 148 संगठन। इस वर्ष नोबेल शांति पुरस्कार जीतने के लिए पोप फ्रांसिस और सीरिया में काम कर रहे व्हाइट हेलमेट क्लियर फेवरेट थे।

- 2016 के नोबेल शांति पुरस्कारों की रेस में भारत के श्रीश्री रविशंकर, अमेरिकी राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रम्प, रूसी मानवाधिकार कार्यकर्ता स्वेतलाना गनुश्किना, सीरिया के युद्धग्रस्त इलाकों में सफेद हेलमेट पहन कर राहत कार्यों को अंजाम देने वाला ग्रुप व्हाइट हेलमेट और दिल्ली में 2013 में एशियन साइकिलिंग चैंपियनशिप में हिस्सा लेने वाली अफगानिस्तान की महिला साइकिलिंग टीम भी शामिल थी।

-यहां हम आपको बताते चलें कि पिछले वर्ष (2015) में शांति का नोबेल पुरस्कार ट्यूनिशिया के राष्ट्रीय डायलॉग क्वार्टेट समूह को दिया गया था। यह समूह अपने देश में लोकतंत्र की बहाली को लेकर प्रयासरत था और इस वजह से उसे पूरी दुनिया में खासी सराहना मिली थी।