रेप के आरोपी को कोर्ट ने सुनाई एक साल तक 'नो सेक्स' की सजा

न्यूयॉर्क (8 फरवरी): एक रेप के आरोपी को अमेरिका के आईडहो प्रांत के एक जज ने एक अजीब सजा सुनाई है। दिलचस्प सजा सुनाई है। जज ने कहा है कि एक साल तक वह अपनी पत्नी के सिवा किसी और के साथ सेक्स नहीं कर सकता है। चूंकि युवक कुंवारा है, तो एक साल लंबी प्रॉबेशन अवधि में सेक्स करने के लिए उसे पहले शादी करनी होगी।

19 साल के इस युवक को 14 साल की एक नाबालिग लड़की का बलात्कार करने का दोषी पाया गया। दोषी युवक का नाम कोडी स्कॉट है। वह ट्विवन फॉल्स का रहने वाला है। जज रैंडी स्टोकर ने पहले कोडी को 5 से 15 साल जेल की सजा सुनाई, लेकिन बाद में उन्होंने एक साल लंबे राइडर प्रोग्राम के लिए इस सजा को निलंबित कर दिया।

अगर कोडी यह प्रोग्राम एक साल की अवधि में पूरा कर लेता है, तो उसे रिहा कर दिया जाएगा। जज ने कहा है कि इस एक साल के राइडर प्रोग्राम के दौरान कोडी किसी के साथ भी सेक्स नहीं कर सकता है। अगर उसने ऐसा किया, तो इसे राइडर प्रोग्राम का उल्लंघन माना जाएगा और उसे जेल भेज दिया जाएगा। 

क्या होता है राइडर प्रोग्राम

मालूम हो कि आईडहो प्रांत में जब किसी को बहुत गंभीर अपराध का दोषी पाया जाता है, तो जज के सामने सजा सुनाने के लिए दो विकल्प होते हैं। पहला विकल्प तो यह कि दोषी को जेल भेज दिया जाए और दूसरे विकल्प के तौर पर उसे निरीक्षण में रखा जाता है। निरीक्षण के दौरान अगर दोषी के व्यवहार में संतोषजनक बदलाव देखा जाता है, तो उसकी जेल की सजा माफ कर दी जाती है। इन दोनों के अलावा तीसरा विकल्प 'राइडर प्रोग्राम' भी होता है। इसमें जज दोषी को 'राइडर प्रोग्राम' में भेजता है, जो कि पहले और दूसरे विकल्प का मिश्रण है। इसके तहत जज दोषी को जेल की सजा तो सुनाता है, लेकिन फिर उसे आईडहो डिपार्टमेंट ऑफ करेक्शन्स के निरीक्षण

में एक साल के लिए भेज देता है। अगर दोषी राइडर प्रोग्राम को एक साल के अंदर पूरा कर ले, तो अदालत उसे जेल भेजने के अपने फैसले की समीक्षा करती है।