रियाद और तेहरान में नहीं बनी बातः इस साल हज नहीं कर पायेंगे ईरानी

नई दिल्ली (30 मई): ईरान के सासंकृतिक मंत्री अली जिन्नाती ने सऊदी अरब पर आरोप लगाया है कि वो ईरानियों की हज यात्रा में अडंगे लगा रहा है। इसलिए इस साल ईरान से कोई भी ईरानी हज के लिए नहीं जायेगा। वहीं सऊदी सूत्रों ने कहा है कि ईरानी डेलिगेशन ने बिना किसी नतीजे पर पहुंचे ही अपनी यात्रा समाप्त कर दी और वो वापस चले गये। सऊदी मंत्रलाय ने कहा कि ईरानी डेलिगेशन वार्ता के दौरान एक के बाद एक अपनी मांगे बढ़ाते जा रहे थे, फिर भी सऊदी सरकार ने अधिकांश मागों पर सहमति बना ली थी।

इसके बावजूद वो अपने फैसले को बताये बिना ही वापस चले गये। शिया नेता निम्र अल शेख को फांसी दिये जान के बाद से ईरान और अरब में संबंध तनावपूर्ण चल रहे हैं। इसके बाद ईरान में सऊदी एंबेसी पर हमला किया गया था। इसी घटना के बाद सऊदी अरब ने ईरान में अपने सभी मिशन बंद कर दिये थे। हालांकि ऐसा भी कहा जा रहा है कि ईरानी डेलिगेट अपने हज यात्रियों की सुरक्षा का पक्का वायदा लेना चाहता है, जबकि सऊदी मंत्रालय ने किसी भी अनहोनी की दशा में कोई भी गारंटी लेने से इंकार कर दिया। पिछले साल मक्का में हुई भगदड़ में 2300 लोग मारे गये थे, जिनमें से अकेले ईरान के 464 लोग थे।