अब बाल कैसे कटवाएंगे उदयपुर के कलेक्टर, रैंप शो की इजाजत नहीं देना भारी पड़ा

उदयपुर (11 फरवरी) : उदयपुर के डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर रोहित गुप्ता को अज़ीब विवाद का सामना करना पड़ रहा है। नगर के हेयर ड्रेसर्स ने डीसी का बॉयकॉट करते हुए उनके बाल नहीं काटने का फैसला किया है। हेयर ड्रेसर्स की नाराज़गी इसलिए है क्योंकि डीसी ने उन्हें एक रैंप शो करने की इजाज़त नहीं दी थी।    

उदयपुर को साफ़-सुथरा और स्मार्ट लुक देने के मकसद से रैंप शो के ज़रिए हेयर ड्रेसर्स कम्युनिटी कैम्पेन चलाना चाहती थी। इसके लिए उनकी एसोसिएशन ने अधिकारियों से 5 जनवरी को रैंप शो की इजाजत मांगी। लेकिन प्रशासन की ओर से कोर्ट के आदेश का हवाला देते हुए झील के किनारे पब्लिक इवेंट करने की इजाजत नहीं दी गई। इसके बाद उन्हें रैंप शो की जगह बदलनी पड़ी।

इस मामले ने दोबारा तूल पकड़ा जब पर्यटन विभाग ने ज़िला प्रशासन के सहयोग से 'लेक फेस्टिवल' के लिए झील के पास ही सांस्कृतिक कार्यक्रमों का एलान किया। हेयर ड्रेसर्स कम्युनिटी का कहना है कि हमारे मॉडल्स झाडू के साथ वॉक कर सफाई के लिए जागरूकता जगाना चाहते थे, लेकिन कलेक्टर ने हमें अनुमति नहीं दी। हम कोर्ट का सम्मान करते हैं, इसलिए उनके फैसले को माना। वहीं अब झील के आसपास इवेंट का आयोजन किया जा रहा है। कम्युनिटी के मुताबिक इसे वो अपना अपमान मानते हैं।