यूपी में बीजेपी ने मुस्लिमों को नहीं दिया टिकट, मोदी के मंत्रियों ने उठाए सवाल

नई दिल्ली ( 27 फरवरी ): उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा की तरफ मुस्लिमों को टिकट नहीं दिए जाने पर पार्टी में दो मत नजर आ रहे हैं। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के बाद अब मोदी सरकार में मंत्री व भाजपा नेता उमा भारती और मुख्तार अब्बास नकवी ने भी सवाल उठाए हैं।

आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि हां हमें अधिक मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट देना चाहिए था।

वहीं केंद्रीय केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती ने भाजपा की तरफ से एक भी मुस्लिम उम्मीदवार को 2017 के विधानसभा चुनावों मे टिकट न देने पर अफसोस जताया है। इसके साथ ही उमा भारती ने कहा कि बेशक हमारी पार्टी ने एक भी मुस्लिम को इन चुनावों में टिकट न दिया हो लेकिन हम उन्हें विधान परिषद में सीट दे सकते हैं। खबरों के मुताबिक उमा भारती ने अफसोस जताते हुए कहा कि हमें मु्स्लिमों को टिकट देना चाहिए था लेकिन हम इसमें असमर्थ रहे। उन्होंने कहा कि मुस्लिमों को टिकट न देकर भाजपा ने एक बड़ी गलती की है।

एक निजी न्यूज चैनल से बात करते हुए उमा भारती ने कहा कि मैं प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जी से बात करुंगी कि वे विधान परिषद में मुस्लिम समुदाय के लोगों को सीट दें।

उमा भारती के बाद केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने सोमवार को कहा कि अच्छा होता अगर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मुस्लिमों को भी टिकट देती। उन्होंने कहा कि बीजेपी समाज के सभी वर्गों को साथ लेकर चलने में विश्वास रखती है और पार्टी की राज्य में सरकार बनने पर मुस्लिम समुदाय के लोगों को इसकी भरपाई की जाएगी।

उन्होंने कहा, 'जहां तक सवाल टिकट का है तो स्थिति बेहतर हो सकती थी (मु्स्लिमों को टिकट दिए जाते)।'