बेटी की लाश के लिए नहीं मिल एंबुलेंस, बाइक पर ले गए शव

बागपत (22 जून): इंसानियत को शर्मसार कर देने वाली खबर यूपी के बागपत जिले से आई है, जहां कुछ दिन पहले ही इकबाल ने अपनी बेटी रेश्मा को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया था। इलाज के दौरान रेशमा की मौत हो गई। डॉक्टर रेशमा को बचा नहीं सके, लेकिन जब रेशमा के घरवालों ने बेटी की लाश ले जाने के लिए एंबुलेंस मांगा तो अस्पताल प्रशासन ने एंबुलेंस देने के नाम पर हाथ खड़े कर दिए।


इसके बाद इकबाल अपनी बच्ची के शव को चादर में लपेटे गोद में उठाकर अस्पताल से बाहर निकले और फिर किसी तरह बच्ची की लाश को बाइक पर रख ले जाने को मजबूर हुए। यूपी सरकार के एंबुलेंस सेवा का ढिंढोरा हर तरफ पीटा जा रहा है। बड़े-बड़े विज्ञापन और तुरंत मदद का दावा, लेकिन बागपत की ये तस्वीरें योजनाओं के पीछे की कड़वी हकीकत को बयां कर रही हैं।


वीडियो: