'नहीं, अक्षय कुमार को हीथ्रो एयरपोर्ट पर हिरासत में नहीं लिया गया'

नई दिल्ली (7 अप्रैल) :  बॉलिवुड एक्टर अक्षय कुमार की टीम ने इस खबर में कोई सच्चाई नहीं बताई है कि उन्हें लंदन के हीथ्रो एयरपोर्ट पर बुधवार को हिरासत में लिया गया। ऐसा भी कहा गया था कि अक्षय कुमार को कथित तौर पर वैध वीज़ा नहीं होने की वजह से हिरासत में लिया गया था।

एनडीटीवी वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक अक्षय कुमार के प्रवक्ता ने कहा कि ऐसा कुछ नहीं हुआ और अक्षय कुमार को कुछ ही मिनट में एयरपोर्ट से जाने की अनुमति दे दी गई थी।

इससे पहले न्यूज़ एजेंसी पीटीआई ने ख़बर दी थी कि कनाडा की नागरिकता रखने वाले अक्षय को एयरपोर्ट पर प्रतीक्षा करनी पड़ी क्योंकि अधिकारी प्रवेश की ज़रुरतों और पासपोर्ट की डिटेल्स चैक कर रहे थे। कनाडा के नागरिक होने की वजह से अक्षय कुमार को बिना वीज़ा 90 दिन तक रहने की अनुमति है। ये टूरिस्ट और बिजनेस दोनों ही मामलों में लागू है। समझा जाता है कि ब्रिटिश अधिकारियों को ये बात चेक करने में अधिक समय लगा। तब तक अक्षय को जनरल वेटिंग एरिया में प्रतीक्षा करनी पड़ी।

एक सूत्र ने बताया कि ये दावा करना कि अक्षय को हिरासत में लिया गया था, पूरी तरह ग़लत है। ये सिर्फ देरी का मामला है जिस पर इमिग्रेशन ने माफ़ी भी मांगी। बता दें कि अक्षय लंदन में अपने अगले प्रोजेक्ट 'रूस्तम' के सिलसिले में हैं। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया था कि अक्षय को वीज़ा के बिना यात्रा करने की वजह से एयरपोर्ट के होल्डिंग एरिया में डेढ़ घंटे तक हिरासत में रखा गया।    

अक्षय कुमार की टीम ने ऐसी मीडिया रिपोर्ट्स का भी खंडन किया जिनमें कहा गया था कि एक्टर ने खास ट्रीटमेंट के लिए अपने रूतबे का इस्तेमाल करने की कोशिश की। टीम के अनुसार अक्षय ने स्वेच्छा से अधिकारियों के आग्रह पर सहयोग किया। अक्षय जल्दी ही एयरपोर्ट से बाहर आ गए और अब लंदन में शूटिंग में व्यस्त हैं।