मिल गया चोरी हुआ निजाम का टिफिन, कीमत 100 करोड़ से ज्यादा, टिफिन में रोज लंच करता था चोर


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 11 सितंबर ): हैदराबाद के निजाम म्यूजियम से बेशकीमती चीजों की चोरी के मामले में पुलिस की जांच के दौरान दिलचस्प खुलासा हुआ है। एक हफ्ते पहले हैदराबाद के निजाम का चोरी हुआ सोने का टिफिन और चाय का कप मिल गया है। हैदराबाद पुलिस की टास्क फोर्स ने दोनों बेशकीमती सामान मुंबई से बरामद किया है। बताया जा रहा है कि हैदराबाद पुलिस ने चोरों को पकड़ने के लिए 15 टीमों का गठन किया था।  


मालूम हो कि यह बेशकीमती सोने का टिफिन और कप हैदराबाद के निजाम म्यूजियम से चोरी हुआ था। इसका इस्‍तेमाल हैदराबाद के अंतिम निजाम मीर उस्‍मान अली खान, आसफ जाह सप्‍तम करते थे। अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में इन बहुमूल्य वस्तुओं की कीमत करीब 100 करोड़ रुपये आंकी गई है। सोने के टिफिन बॉक्‍स और कप की कीमत इसलिए भी ज्यादा है क्योंकि इनका वजन 2 किलोग्राम है और इसमें हीरे तथा रुबी जड़े हुए हैं। इन्हें चोरी करने के आरोप में पुलिस ने घौसे पाशा और मोहम्मद मुबीन को गिरफ्तार किया है।


पुलिस के मुताबिक फिल्मी स्टाइल में चोरों ने वारदात को अंजाम दिया। इसके बाद वे फरार होकर मुंबई पहुंच गए। यहां दोनों आरोपी शानोशौकत की जिंदगी गुजार रहे थे। पकड़े जाने से पहले वे एक लग्जरी होटल में रुके हुए थे। 4 किलोग्राम सोने और हीरा, माणिक-पन्ना जड़ित यह टिफिन निजाम की वैभवशाली विरासत का प्रतीक है। करोड़ों की कीमत वाले टिफिन बॉक्स का शायद निजाम ने इस्तेमाल नहीं किया था लेकिन पुलिस की गिरफ्त में आया एक चोर रोजाना इसमें खाना खाता था।


पुलिस ने बताया कि दोनों चोरों ने हॉलीवुड स्टाइल में इस वारदात को अंजाम दिया था। पहला आरोपी घौसे पाशा सायबराबाद के राजेंद्र नगर का रहने वाला है। उस पर पहले से ही 15 आपराधिक मामले दर्ज हैं। जबकि दूसरा आरोपी मोहम्मद मुबीन हाल ही में सऊदी अरब से वापस भारत लौटा था। वह एक माह पहले ही हैदराबाद के निजाम म्यूजियम घूमने के लिए आया था और उसकी नजर निजाम के बेशकीमती सोने के कप और टिफिन बॉक्स पर पड़ी। इसके बाद उसने चोरी का प्लान बनाया।


हैदराबाद पुलिस के अंजनी कुमार ने बताया कि दोनों आरोपी टिफिन और कप चुराकर मुंबई गए और वहां इन्हें बेचने की तैयार कर रहे थे, लेकिन हमने उन्हें खुफिया जानकारी के आधार पर ढूंढ निकाला। दोनों ने राजेंद्र नगर की एक डेयरी में ये बेशकीमती सामान चुराकर छिपाया था। यही नहीं, दोनों चोर निजाम की पवित्र कुरआन भी चुराने के फिराक में थे, लेकिन जब उन्होंने कुरआन को छुआ उसी वक्त अजान की आवाज सुनकर वो घबरा गए।


उन्हें पकड़े जाने का डर हुआ तो वो केवल सोने का टिफिन बॉक्स और कप चुराकर फरार हो गए। पुलिस ने इस केस को सुलझाने के लिए करीब एक लाख फोन कॉल ट्रेस किए।

बता दें कि इस म्‍यूजियम में वर्तमान समय में 450 चीजें प्रदर्शित की गई हैं, जिसमें से कई निजाम सप्‍तम और मीर महबूब अली खान की हैं. नइन सामानों की अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में कीमत 250 से 500 करोड़ रुपये के बीच है।