ब्रांडेड की शक्ल में नकली प्रोडक्ट्स का पर्दाफाश

इंद्रजीत सिंह, नई दिल्ली ( 13 जनवरी ): महाराष्ट्र एफडीए ने मल्टीनेशनल ब्रांडेड कंपनियों के सौन्दर्य प्रसाधन के डुप्लीकेट प्रोडक्ट बनाने वाली 2 कंपनियों पर छापा मारकर ढाई करोड़ रुपए के प्रोडक्ट जब्त किए हैं। इस मामले में तीन लोगों पर केस दर्ज किया गया है। हैरानी की बात ये है कि FDA ने जो प्रोडक्ट पकड़े हैं, उसमें  है लोरियल, लैक्मे, निविया के ब्यूटी प्रोडक्ट्स शामिल हैं। सबसे अधिक चौंकाने वाली बात यह है कि ये प्रोडक्ट्स बिलकुल असली प्रोडक्ट्स की तरह दिखते हैं जिससे इन प्रोडक्ट्स को आम लोगो द्वारा पहचानना काफी मुश्किल है।  

 

लोरियल, लैक्मे, निविया के ये प्रोडक्ट्स को देख आप सोच रहे होंगे कि इन्हें लगाकर आप सुन्दर दिखेंगे, लेकिन आपको बता दें की यह प्रोडक्ट्स नकली हैं जिससे अगर आप इन प्रोडक्टस को लगाएंगे तो बजाय सुन्दर दिखने के आप की सुंदरता को नुकसान पहुंच सकता है।

एफडीए ने इस मामले में तीन लोगों पर केस दर्ज किया है और दो कम्पनियों की सील की है। सबसे हैरानी की बात ये है कि इन प्रोडक्ट्स के पैकेट बिलकुल असली जैसे हैं। अब एसे में सवाल उठता है कि असली और नकली की पहचान आम आदमी कैसे करे। एफीडीने कहा कि इन्हें पहचानना मुश्किल है, लेकिन प्रोडक्ट्स बैच नंबर और एक्सपायरी डेट चेक करना चाहिए। इसके अलावा कंपनियों को भी जागरुकता अभियान के जरिए लोगों को इसकी जानकारी देनी चाहिए।

एफडीए ने इस मामले में तीन लोगों पर केस दर्ज किया है जिनकी जल्द ही गिरफ़्तारी हो सकती है। लेकिन सबसे बड़ी मुश्किल ये चेक करना है कि ये नकली प्रोडक्ट्स कहां-कहां पहुंचे हैं।