उप राष्ट्रपति चुनावः सरकार बीजेपी के साथ लेकिन वोट 'गांधी' को ही देंगे नीतीश

नई दिल्ली (28 जुलाई): नीतीश कुमार ने बिहार में बीजेपी के साथ गठबंधन भले ही कर लिया है लेकिन वो उपराष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष के उम्मीदवार गोपालकृष्ण गांधी का ही साथ देंगे। गांधी को समर्थन देने के फैसले में कोई बदलाव नहीं होगा। नीतीश का कहना है कि दो मामलों को नहीं मिलाया जाना चाहिए। जेडीयू के एक वरिष्ठ नेता ने बताया,'नीतीश जी ने हमेशा कहा है कि पार्टी की बिहार और राष्ट्रीय राजनीति में अपनी अलग भूमिका है। बीजेपी के साथ गठबंधन राज्य की भलाई के लिए किया गया है पर पार्टी ने गांधी को उनकी योग्यता और पहचान के लिए समर्थन दिया है। इसलिए इस फैसले में बदलाव लाने की कोई वजह नहीं है।'