नीतीश-बीजेपी सरकार ने ये बने मंत्री

पटना (27 जुलाई): बिहार की नीतीश-मोदी की नई सरकार के मंत्रिमंडल का आज पहला विस्तार हुआ। राजभवन में बिहार के राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी ने जदयू और एनडीए खेमे के मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। जेडीयू, बीजेपी और एलजेपी के कुल 26 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली। बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष मंगल पांडेय का भी शपथ लेने वालों में नाम था, लेकिन वह शपथ लेने नहीं पहुंच सके। मंत्रिमंडल में जेडीयू के कोटे से 14 मंत्रियों ने शपथ ली। वहीं, बीजेपी के 11 और एलजेपी से एक विधायक मंत्री बना।

इन्हें मिला मंत्री पद..


विजेंद्र प्रसाद यादव- सुपौल से जेडीयू के विधायक हैं। नीतीश की पिछली सरकार में भी विेजेंद्र प्रसाद यादव मंत्री थे। इससे पहले भी उर्जा मंत्री रह चुके हैं। 2005 से लगातार मंत्री हैं। 

प्रेम कुमार- गया से बीजेपी के विधायक हैं। नेता प्रतिपक्ष भी रह चुके हैं। प्रेम कुमार सात बार विधायक रह चुके हैं।
 
ललन सिंह- नीतीश सरकार में पहले थे लोक निर्माण विभाग मंत्री, लोकसभा और राज्यसभा सांसद भी रह चुके हैं। नीतीश के करीबी नेताओं में शुमार हैं।

नंद किशोर यादव- बीजेपी विधायक नंद किशोर यादव पहले PWD, स्वास्थ्य एवं पर्यटन मंत्री रह चुके हैं। बिहार में सुशील मोदी के बाद बीजेपी के दूसरे बड़े नेता माने जाते हैं। साथ ही यह आरएसएस से भी जुड़े रहे हैं। 

श्रवण कुमार- नालंदा से JDU के विधायक हैं श्रवण कुमार। ग्रामीण विकास मंत्री रह चुके हैं। संसदीय कार्यमंत्री का भी प्रभार मिल चुका है। श्रवण कुमार 1995 से लगातार चुनाव जीत रहे हैं।

रामनारायण मंडल- बांका से बीजेपी के विधायक। बिहार बीजेपी के उपाध्यक्ष और पिछली सरकार में मंत्री रह चुके हैं। चौथी बार जीतकर विधानसभा पहुंचे हैं।

जय कुमार सिंहृ- दिनारा से जेडीयू के विधायक हैं जय कुमार सिंह। 2010 से विधायक हैं। पिछली सरकार में सहकारिता मंत्रालय का प्रभार मिला था।

प्रमोद कुमार- पूर्वी चंपारण की मोतिहारी सीट से बीजेपी विधायक हैं। एबीवीपी और आरएसएस भी जुड़े रहे हैं।

कृष्णनंदन वर्मा- घोसी सीट से जेडीयू के विधायक हैं कृष्णनंदन वर्मा। महागठबंधन सरकार में भी थे मंत्री। साफ-सुथरी छवि वाले नेता माने जाते हैं।

महेश्वर हजारी- कल्याणपुर से जेडीयू के हैं विधायक महेश्वर हजारी। रामविलास पासवान के करीबियों में शुमार हैं। नगर विकास व आवास मंत्री भी रह चुके हैं।

विनोद नारायण झा- बिहार बीजेपी के प्रवक्ता विनोद नारायण झा और MLC हैं।

शैलेश कुमार- मुंगेर जिले की जमालपुर सीट से जेडीयू हैं शैलेश कुमार। ग्रामीण विकास मंत्री भी रह चुके हैं।

सुरेश शर्मा- मुजफ्फरपुर शहर से बीजेपी के विधायक हैं सुरेश शर्मा। 2010 में पहली बार विधायक बने थे। BJP व्यवसायिक मंच के अध्यक्ष रह चुके हैं।

मंजू वर्मा- चेरिया बरियापुर से जेडीयू विधायक हैं मंजू वर्मा। महागठबंधन सरकार में भी थीं मंत्री। सामाजिक कल्याण मंत्रालय का प्रभार मिला था।

विजय कुमार सिन्हा- लखीसराय सीट से बीजेपी के विधायक हैं विजय कुमार सिन्हा। पहली बार मंत्री बने हैं सिन्हा।

संतोष निराला- राजपुर (बक्सर) सीट से जेडीयू के विधायक हैं संतोष निराला। 2010 में पहली बार बने विधायक। SC/ST कल्याण मंत्री भी रह चुके हैं।

राणा रणधीर सिंह- पूर्वी चंपारण की मधुबन सीट से विधायक राणा रणधीर सिंह ने ली मंत्रिपद की शपथ। पूर्व सांसद सीताराम सिंह के बेटे हैं राणा रणधीर सिंह।

खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद- सिकटा सीट से जेडीयू के विधायक हैं खुर्शीद। पिछली गठबंधन सरकार में थे गन्ना मंत्री।

विनोद कुमार सिंह- प्राणपुर सीट से बीजेपी के विधायक है।

मदन सहनी- दरभंगा की गौरा बरम सीट से जेडीयू विधायक है मदन सहनी। खाद्य व उपभोक्ता संरक्षण मंत्री मदन रह चुके हैं। 

कृष्ण कुमार ऋषि- पूर्णिया की बनमनखी सीट से बीजेपी विधायक हैं कृष्ण कुमार।

कपिल देव कामत- बाबूबरही से जेडीयू के विधायक हैं कपिल देव कामत। पिछली सरकार में पंचायती राज मंत्री रह चुके हैं कामत।

दिनेश यादव- सहरसा की सिमरी बख्तियार पुर से जेडीयू विधायक हैं दिनेश यादव। सांसद भी रह चुके हैं।

रमेश ऋषि देव- सिंघेश्वर सीट से बीजेपी के विधायक हैं रमेश ऋषि देव। पहली बार मंत्री बने हैं।

पशुपति कुमार पारस- रामविलास पासवान के भाई हैं पशुपति कुमार पारस। LJP के प्रदेश अध्यक्ष हैं पारस।