सही वक्त लालू और राहुल को दूंगा जवाब- नीतीश कुमार

पटना (27 जुलाई): महागठबंधन का साथ छोड़कर एनडीए में शामिल होकर नीतीश कुमार ने महज चंद घंटों में बिहार और देश की राजनीति में खलबली मचा दी। नीतीश की इस चाल से जहां एनडीए उत्साहित नजर आ रही है वहीं नरेंद्र मोदी और बीजेपी विरोधी खेमा सन्न है। लिहाजा विरोधी खेमा नीतीश पर बार कर रही है। फिलहाल नीतीश कुमार अपने उपर हो रहे इन हमलों का जवाब देने के मूड में नहीं दिख रहे हैं। नीतीश ने लालू और राहुल गांधी के आरोपों पर कहा कि मैं समय आने पर उचित जवाब दूंगा। लगे हाथों नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य का विकास और जनता के साथ न्याय उनकी प्राथमिकता है। मैं बिहार की जनता और राज्य के विकास के लिए प्रतिबद्ध हूं। यह फैसला राज्य के हित में और उसके विकास के लिए लिया गया है। यह सामूहिक फैसला है। मैं बिहार की जनता की सेवा करता रहूंगा।


आपको बता दें कि लालू प्रसाद ने नीतीश कुमार पर धोखा देने का आरोप लगाया है। लालू ने यह दावा भी किया कि उन्होंने तेजस्वी पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों के कारण इस्तीफा नहीं दिया, बल्कि खुद पर लगे मर्डर केस के कारण इस्तीफा दिया है। नीतीश के इस्तीफे के बाद महागठबंधन सहयोगी रहे कांग्रेस ने भी जमकर हमला बोला। पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि वह अपने राजनीतिक मकसद के लिए सांप्रदायिक ताकतों से दोबारा जुड़ गए। 

राहुल गांधी ने कहा कि राजनीति में यह पता चल जाता है कि आदमी के दिमाग में क्या चल रहा है। मुझे तीन-चार महीने से पता था कि इस तरह की प्लानिंग चल रही है। नीतीश के एनडीए के साथ जुड़े जाने पर राहुल ने कहा कि हिंदुस्तान की राजनीति में यही प्रॉब्लम है। अपने स्वार्थ के लिए व्यक्ति कुछ भी कर जाता है। कोई नियम नहीं है, कोई क्रेडिबिलिटी नहीं है, सत्ता के लिए कोई कुछ भी कर सकता है।