पुरानी गाड़ियों पर तोहफा? नई की कीमत 10% कम

नई दिल्ली (25 अगस्त): प्रदूषण पर नियंत्रण के लिए सरकार एक नई नीति बनाने जा रही है। जिसके तहत 15 साल से पुराने वाहनों को नष्ट करना अनिवार्य किया जाएगा। इस नीति की शुरुआत सबसे पहले बड़े वाहनों से की जाएगी। केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने इसकी जानकारी दी।

रिपोर्ट के मुताबिक, वित्त मंत्रालय ने प्रस्तावित नीति को सचिवों की समिति के समक्ष प्रस्तावित किया है। गडकरी ने वित्तमंत्री अरुण जेटली के साथ देश के वाहनों को आधुनिक बनाने के सिलसिले में एक बैठक के बाद इस नीति के बारे में बताया।

गडकरी ने बताया, "वित्तमंत्री ने कहा कि 65 फीसदी प्रदूषण बड़े वाहनों की वजह से होता है। जो 15 साल पुराने हो गए हैं। हम इन सभी को पहले चरण में नष्ट करेंगे।"

उन्होंने बताया- "उन्होंने वाहनों को नष्ट करने की नीति को अनिवार्य ना कि एच्छिक बनाने के लिए कहा है। वित्तमंत्री ने कहा कि टैक्स छूट की जगह फंड के प्रावधान को बजट में शामिल किया जाएगा।"

इस नीति से क्या फायदा होगा

- गडकरी ने कहा कि यह नीति केंद्र के साथ राज्य सरकारों को भी फायदा पहुंचाएगी। जिससे राजस्व बढ़ेगा।

- इससे नई गाड़ी की कीमत में 10% के करीब फर्क आएगा।  - ईंधन बचेगा। - स्टील के इंपोर्ट कम होगा।  - रोजगार के अवसर बढ़ेगा।