"गौमूत्र सेवन से खत्म हुई मेरी डायबटीज"

नई दिल्ली (4 अगस्त): केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी का मानना है कि गौमूत्र अर्क के सेवन से डायबटीज खत्म हो जाती है। उन्होंने कहा की गौमूत्र से रिसर्च कर अनेक अच्छी दवाएं तैयार की है और वे रोजाना गौमूत्र अर्क का सेवन करते है, जिससे उनकी डायबटीज खत्म हो गई है।

गडकरी ने कहा कि किसी भी बात को भावना में बहकर नहीं कहना चाहिए बल्कि इसे रिसर्च के साथ कहना चाहिए। उन्होंने बाबा रामदेव के सपने के बारे में भी कहा की बाबा का सपना है कि हमारे देश की गाय 30 से 40 किलों दूध देने वाली हो।

ऐसा नहीं है कि गडकरी अकेले ऐसे नेता हैं गौमूत्र के गुणों के बारे में बताया हो, इनसे पहले केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने फर्श की सफाई के लिए गौमूत्र से बने द्रव्य गौनाइल के सरकारी दफ्तरों में इस्तेमाल की वकालत की थी। उन्होंने कहा था कि अभी उपयोग में लाए जा रहे फिनाइल रासायनिक तौर पर पर्यावरण के लिए नुकसानदेह हैं। ऐसे में गौमूत्र से बने ‘‘गोनाइल’’ का इस्तेमाल शुरू किया जाए, क्योंकि यह पर्यावरण के लिहाज से अच्छा है।