पंचवर्षीय योजना खत्म, मोदी सरकार ने अगले 15 साल का रोड मैप किया पेश


नई दिल्ली (23 अप्रैल): नरेंद्र मोदी सरकार देश के समग्र विकास और ग्रोथ के लिए तैयार हो रही है। देश में तेजी से बदलाव लाने के लिए नीति आयोग की गवर्निंग काउंसिल की आज तीसरी बैठक रविवार को हुई। बताया जा रहा है कि इस बैठक में नीति आयोग ने देश में बदलाव लाने का अगले 15 साल का रोडमैप पेश किया।

इससे पहले पंचवर्षीय योजनाएं बनी करती थीं। 12वीं पंचवर्षीय योजना 31 मार्च 2017 को खत्म होनेवाली थी, लेकिन मंत्रालयों को अपने कामकाज निपटाने के लिए आखिरी पंचवर्षीय योजना को छह महीने का विस्तार दे दिया गया है। इसकी अवधि पूरे होते ही साथ ही नेहरू के समाजवाद के इस प्रमुख घटक का खात्मा हो जाएगा। नई व्यवस्था में तीन साल का ऐक्शन प्लान बनेगा जो सात वर्षीय स्ट्रैटिजी पेपर और 15 वर्षीय विजन डॉक्युमेंट का हिस्सा होगा। योजना आयोग की जगह लेने वाले नीति आयोग 1 अप्रैल को तीन वर्षीय ऐक्शन प्लान लॉन्च चुका है।