आर्थिक वृद्धि में चीन को पछाड़ देगा भारत: नीति आयोग

नई दिल्ली ( 5 दिसंबर ): अगले तीन दशकों में भारत चीन से आगे निकल सकता है। नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने कहा कि यदि एशिया के दो दिग्गज देशों (भारत-चीन) के बीच यदि संबंध बेहतर बने रहे और अर्थिक वृद्धि के मामले में भारत ने चीन का अनुसरण किया तो अगले तीन दशकों के लिए उच्च आर्थिक वृद्धि के मामले में भारतीय अर्थव्यवस्था चीन से आगे निकल जाएगी। नीति आयोग के उपाध्यक्ष इन दिनों चीन के दौरे पर हैं। वो दोनों देशों के उच्चस्तरीय प्लानिंग बॉडी के तीसरे वार्षिक वार्ता में हिस्सा लेने गए हुए हैं। 

उन्होंने कहा कि वर्ष 2008 की वैश्विक मंदी के बाद पहली बार दुनिया की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं (अमेरिका, यूरोप और जापान) में समकालिन आर्थिक सुधार के संकेत देखने को मिल रहे हैं। साथ ही यह भी कहा है कि वैश्विक अर्थव्यवस्था में सुधार अच्छा है। उन्होंने आगे कहा कि इस परिदृश्य में, भारत और चीन को आर्थिक सुधार का लाभ लेना चाहिए।

नीति आयोग और चीन के डेवलपमेंट रिसर्च सेंटर के बीच वार्ता के दौरान उन्होंने कहा कि यह अनिवार्य है कि दोनों देशों को साथ मिलकर काम करना चाहिए। आगे बढ़ने में एक-दूसरे की मदद करनी चाहिए। मुझे लगता है कि वैश्विक स्तर पर और एशिया में जिस तरह की परिस्थितियां है उसमें भारत अगले 30 साल में उच्च आर्थिक वृद्धि के मामले में चीन से आगे निकल जाएगा।

कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जोर भारत की आर्थिक वृद्धि दर को दहाई अंक की ओर बढ़ाने पर है, क्योंकि इससे चीन की तरह भारत भी गरीबी से निजात पा सकता है।