राजस्थान की सांभर झील, निसान की जीटी-आर और दुनिया का सबसे बड़ा नक्शा, जानिये ये दिलचस्प मामला

कारों की गॉडज़िला कही जाने वाली निसान जीटी-आर ने दुनियाभर के रेस ट्रैकों पर कई रिकॉर्ड बनाए और तोड़े हैं। पिछले साल दिसंबर में यह भारत में लॉन्च हुई। दो महीने से भी कम वक्त में इस कार ने अपने खाते में बड़ी उपलब्धि दर्ज की है।

दरअसल कल यानी 26 जनवरी को भारत का 68वां गणतंत्र दिवस मनाया जाएगा, इसकी तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं और इस मौके को यादगार बनाने के लिए निसान जीटी-आर ने जमीन पर भारत का नक्शा (आउटलाइन) उकेरा है, इस नक्शे की खासियत ये है कि यह जमीन पर उकेरा गया किसी भी देश का सबसे बड़ा नक्शा है। इसके लिए जीटी-आर का नाम लिम्का बुक में भी दर्ज किया जाएगा।

इस ऐतिहासिक पल के लिए राजस्थान के मशहूर सांभर लेक को चुना गया था। कंपनी का कहना है कि यहां की मिट्टी नरम है, इस वजह से यहां ज्यादा गहरी लाइनें बनती हैं और आसमान से इसका नजारा काफी साफ दिखता है। निसान जीटी-आर ने यहां भारत का जो नक्शा बनाया है वो 3 किलोमीटर लम्बा और 2.8 किलोमीटर चौड़ा है, इसका पूरा घेरा 14.7 किलोमीटर का है। इस दौरान लिम्का बुक रिकॉर्ड के अधिकारी भी मौके पर मौजूद थे,  रिकॉर्ड प्रमाणित होने के बाद इसे 2018 लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में स्थान दिया जाएगा। नक्शा बनाने में कोई चूक ना हो जाए, इसके लिए जीपीएस का इस्तेमाल किया था।

भारत में निसान जीटी-आर को जापान से आयात करके बेचा जा रहा है। यहां इसकी कीमत 1.99 करोड़ रूपए (एक्स-शोरूम, दिल्ली) है।

 

कारदेखो

राजस्थान की सांभर झील, निसान की जीटी-आर और दुनिया का सबसे बड़ा नक्शा, जानिये ये दिलचस्प मामला