निसान जीटीआरः जानिये, क्या समाया है इस जापानी सुपरकार में

ऑटो एक्सपो-2016 एक्सपो में निसान ने अपनी दो कारों को डिस्प्ले किया। इनमें इंटरनेशनल एसयूवी एक्स-ट्रेल का हाईब्रिड वर्जन और गॉडजिला नाम से मशहूर सुपरकार जीटीआर शामिल थी। जीटीआर ने निसान के पवेलियन में एक्स-ट्रेल के मुकाबले दर्शकों की बड़ी तादाद अपनी ओर खींची।

बात करें जीटीआर की तो यह देखने में बहुत ज्यादा एयरोडायनामिक नहीं लगती है। लेकिन सटीक हैंडलिंग, संतुलन और गजब की तेज रफ्तार वो खासियतें हैं जो इसे सुपरकारों की दुनिया में एक अलग मुकाम दिलाती हैं। इस कार के रेसिंग ट्रैक टेस्ट और रिव्यूज़ बताते हैं कि बतौर एक सुपरकार यह कितनी परफेक्ट है। जीटीआर के भारत आने की बात करें तो तीन से चार महीने में यह सुपरकार यहां मौजूद होगी।

पावर स्पेसिफिकेशन की बात करें तो निसान जीटीआर में 3.8 लीटर का ट्विन टर्बो वी6 इंजन लगा है, जो 545बीएचपी की पावर देता है। हालांकि इस सेगमेंट की दूसरी कारों की तुलना में जीटीआर पहली नज़र में कम पावरफुल लग सकती है। लेकिन केवल इसे कमतर आंकना बड़ी गलती होगी। यह कार महज़ दो सेकंड के अंदर 0 से 100 किलोमीटर की रफ्तार पकड़ने की क्षमता रखती है। इसकी टॉप स्पीड 315 किलोमीटर प्रतिघंटा की है।

इंटीरियर पर नजर डालें तो इसका केबिन क्लासिक डिजायन लिए हुए है। नई कारों मसलन पोर्श 911 से तुलना करें तो इसका डिजायन थोड़ा पुराना लग सकता है। इसमें लगा इंफोटेंमेंट सिस्टम कार के परफॉरमेंस आउटपुट, कार पर पड़ने वाले दबाव (जी-फोर्स) और मुड़ने के दौरान कार के एक्सीलेरेशन जैसी महत्वपूर्ण जानकारी दिखाता है।

निसान जीटीआरः जानिये, क्या समाया है इस जापानी सुपरकार में