केरल में निपाह वायरस से अब तक 15 लोगों ने दम तोड़ा

नई दिल्ली (31 मई): केरल में निपाह वायरस की जद में आकर मरने वालों की संख्या 15 हो गई है। बुधवार को यहां दो और लोगों की मौत के बाद निपाह वायरस से मौत का आंकड़ा 15 हो गया। कोझिकोड डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में पेशे से वकील 55 साल के पी. मधुसूदन और 28 वर्षीय अखिल अलग-अलग अस्पताल में भर्ती थे और दोनों ने आखिरकार दम तोड़ दिया।

अधिकारियों के लिए परेशानी की बात यह है कि अखिल निपाह से पीड़ित इलाके के नहीं थे। ऐसे में उनकी मौत ने प्रशासन की चिंता बढ़ा दी है। अभी 9 और लोग निपाह से संक्रमित हैं और उन्हें अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।फौजी की संदिग्ध निपाह वायरस से मौत इधर, कोलकाता के फोर्ट विलियम में तैनात केरल के एक सैनिक की संदिग्ध निपाह वायरस के संक्रमण से मौत हो गई। रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि 28 वर्षीय सैनिक को कमान अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां पांच दिन बाद उसकी मौत हो गई। पलक्कड़ जिले के रहने वाले सीनू प्रसाद का शव केरल नहीं लाया गया और कोलकाता में ही उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया।  

बीमारी से बचने के लिए जरूरी सुझाव-सुनिश्चित करें कि आप जो खाना खाते हैं वह चमगादड़ या उनके मल से दूषित न हो। - चमगादड़ या किसी भी पक्षी या जानवर के कुतरे फलों को खाने से बचें। - ताड़ के पेड़ के पास खुले कंटेनर में बनी शराब पीने से बचें। - बीमारी से पीड़ित किसी भी व्यक्ति के संपर्क में आने से बचें। - अपने हाथों को अच्छी तरह से धोएं। - शौचालय के बाल्टी और मग को अच्छी तरह से साफ करें। - रोगी के लिए उपयोग किए जाने वाले कपड़े, बर्तन और सामान को अलग से साफ करें।