मेडिकल छात्रा से दुष्‍कर्म की कोशिश करने वाला विश्वविद्यालय का चेयरमेन गिरफ्तार

श्रीवत्सन, जयपुर (6 सितंबर): मेडिकल यूनिवर्सिटी में छात्रा के साथ दुष्कर्म की कोशिश के आरोपी निम्स यूनिवर्सिटी के चेयरमेन बीएस तोमर को आखिरकार जयपुर में गिरफ्तार कर ही लिया। झारखंड पुलिस की एक टीम जयपुर आई और उसके खिलाफ वहां की अदालत द्वारा जारी नॉन बेलेबल वारंट की तामिल करते हुए आरोपी को गिरफ्तार किया।

तोमर पर आरोप है कि उसने अपने ही यूनिवर्सिटी के पढ़ने आई इस छात्रा को अपने बुलाकर रेप की कोशिश की। तोमर को करीब डेढ़ साल से रांची पुलिस ने भगोड़ा घोषित कर रखा था। जयपुर पुलिस के सहयोग से झारखंड से आई पुलिस की एक टीम ने मंगलवार सुबह तोमर को उनके घर से गिरफ्तार कर लिया गया है और मोती डूंगरी थाने ले जाया गया, यहां से उसे अदालत में पेश किया गया।

दरअसल निम्स यूनिवर्सिटी के चेयरमैन 70 वर्षीय डॉ. बीएस तोमर पर अपने ही कॉलेज की 20 साल की एक छात्रा के साथ रेप की कोशिश करने का आरोप है। रांची की छात्रा जयपुर के निम्स यूनिवर्सिटी के पारा मेडिकल कॉलेज में बैचलर ऑफ रेडिएशन एंड इमेजिंग टेक्नोलॉजी के द्वितीय वर्ष में पढ़ रही थी। पीडिता के अनुसार तोमर एक कार्यक्रम में भाग लेने पिछले साल 25 अक्टूबर को रांची आए हुए थे और कार्यक्रम में पीड़ित छात्रा भी शामिल हुई। कार्यक्रम के बाद उन्होंने छात्रा को अपने कमरे में बुलाकर उसे स्टूडेंट एक्सचेंज प्रोग्राम के तहत यूरोप भेजने का झांसा देकर जबरदस्ती करने लगे।

पीड़ित छात्रा जयपुर के चंदवाजी थाना क्षेत्र स्थित यूनिवर्सिटी कैंपस से निकलकर जयपुर शहर पहुंची। वहां से अपने पापा को फोन  कर चेयरमैन की हरकतों की जानकारी दी। साथ ही यह भी बताया कि वह दिल्ली पहुंच रही है। लड़की ने पिता से रांची के लिए जहाज का टिकट मंगवाया। पांच फरवरी को छात्रा रांची पहुंची। पीड़ित छात्रा ने चार फरवरी को उसके साथ तोमर द्वारा मोबाईल पर की गई अश्लील बातचीत की 47 मिनट की रिकॉर्डिंग भी पुलिस को दी है।

सूत्रों की माने तो डॉ. तोमर के खिलाफ यौन शोषण की पहले भी कई मामले सामने आ चुके हैं। निम्स यूनिवर्सिटी में ही काम करने वाली एक 25 वर्षीय युवती ने भी आरोप लगाया था कि तोमर ने उसे रुपए और हवाई जहाज का टिकट देते हुए अहमदाबाद चलने के लिए कहा था। फाइव स्टार होटल में कमरा बुक करा लिया। खुद अहमदाबाद पहुंच गए, लेकिन युवती नहीं गई। इसी प्रकार तोमर ने एक रिसेप्शनिस्ट का यौन शोषण करने का प्रयास किया।