झारखंड: एनआईए को मिली कामयाबी, बोकारो से बड़ी मात्रा में हथियार, गोला-बारूद किए जब्त

नई दिल्ली ( 29 मई ): राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी (एनआईए) ने मंगलवार को बड़ी कामयाबी मिली। एनआईए ने नक्सलियों के गढ़ झुमरा में बड़ी कार्रवाई की। झारखंड के बोकारो से एनआईए ने भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद जब्त किए गए। एनआईए टीम ने बोकारो पुलिस और सीआरपीएफ के सहयोग से झुमरा से एक नाइन एमएम कार्रबाइन, प्वाइंट 303 की दस राइफल, एक नाइन एमएम पिस्टल, एक सिंगल बैरल राइफल, दो सिंगल बैरल राइफल और नगद तीन लाख रुपये बरामद किए गए। इसके अलावा भारी मात्रा में विस्फोटक, लेवी की रसीद और कई प्रमुख कागजात बरामद किए।इसी साल 5 मार्च को हुए मुठभेड़ के बाद चार्ली नाम के एक नक्सली को गिरफ्तार किया गया था। नक्सली चार्ली से पूछताछ के दौरान एनआईए के हाथ यह अहम जानकारी लगी थी, जिसके बाद मंगलवार को कार्रवाई की गई।राज्य में माओवादी व दूसरे उग्रवादी संगठनों के खिलाफ एनआईए कार्रवाई कर रही है। 2018 में एनआईए ने नोटबंदी के दौरान मिले माओवादियों व पीएलएफआई के दस्ते के 500 और 1000 रुपये के पुराने नोटों की बरामदगी की जांच शुरू की। टीपीसी के पास से 2016 में बरामद 22 लाख के मामले में टंडवा थाने में दर्ज केस की भी एनआईए जांच कर रही है।छह मार्च को डुमरी अकबकीटांड में बड़ी संख्या में हथियार के साथ पंद्रह नक्सली दबोचे गए थे। मौके से 60 एटीएम, 1125 आधार कार्ड समेत कई कागजात मिले थे। नौ मई को एनआईए ने इस केस को टेकओवर कर और नए सिरे से प्राथमिकी दर्ज की। इसके बाद एनआईए ने गिरफ्तार माओवादी महावीर मांझी उर्फ चार्लिस से पूछताछ की। चार्लिस ने बताया कि उसने हथियार व विस्फोटकों को लुगू पहाड़ पर रखा है। उसके बाद यह कार्रवाई की गई।