साध्वी प्रज्ञा जल्द हो सकती हैं रिहा, NIA नहीं करेगी जमानत का विरोध

नई दिल्ली (19 जनवरी): पिछले 8 साल से जेल में बंद 2008 के मालेगांव बम ब्लॉस्ट केस के आरोपी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर जल्द जेल से बाहर आ सकती हैं। राष्ट्रीय जांच एजेंसी यानी NIA का कहना है कि अगर साध्वी प्रज्ञा ठाकुर कोर्ट में बेल के अर्जी देतीं हैं वो इसा विरोध नहीं करेगा।

नवंबर, 2015 में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद साध्वी ने विशेष NIA कोर्ट में अपनी जमानत याचिका रखी थी और इसे कोर्ट ने नामंजूर करते हुए कहा था कि प्रारंभिक दृष्टि से ऐसा लगता है कि उनके विरुद्ध लगे आरोपों में दम है। लेकिन मई, 2016 में NIA ने जो चार्ज शीट दायर की थी उसमें सभी दोषों से साध्वी को मुक्त कर दिया गया था। NIA ने उनके विरुद्ध लगे 'मकोका' के सभी आरोपों को वापस ले लिया था। 

गौरतलब है कि यह ब्लॉस्ट सितंबर, 2008 को महाराष्ट्र के पॉवरलूम सेंटर मालेगांव में हुआ था जिसमें 6 लोगों की मौत हो गई थी।