NIA की वजह से टेरर फंडिंग से जुड़े लोगों में खौफ: राजनाथ सिंह

लखनऊ(20 अगस्त): केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा है NIA जिन मामलों की जांच करती हैं उनमें से 95 फीसद मामलों की दोषियों को सजा दिलाने में सफल भी होती है। उन्होंने कहा कि NIA की जांच के बाद घाटी में टेरर फंडिंग से जुड़ लोगों में खौफ है। राजनाथ ने ये बातें लखनऊ में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) के पहले आवासीय दफ्तर के उद्घाटन के मौके पर बोली। 

- राजनाथ सिंह ने कहा कि कश्मीर में होने वाली पत्थरबाजी में पिछले 2 वर्षों से काफी कमी आई है। उन्होंने कहा कि एनआईए का कोई अपना ऑफिस नहीं था और इसलिए लखनऊ में भारत का पहला आवासीय ऑफिस खोलने का फैसला किया गया।

- गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि फिलहाल NIA 165 मामलों की जांच कर रही है और कश्मीर में पत्थरबाजी में कमी के पीछे NIA एक बड़ी वजह है। साथ ही गृह मंत्री ने कहा कि 2 वर्षों में पूर्वोत्तर के इलाकों में नक्सली हिंसा की वारदातें भी घटी हैं, इनमें करीब 75 प्रतिशत की कमी आई है।