पाक आतंकी का खुलासा- 'बुरहान की मौत के बाद दंगा कराने के लिए कहा गया'

नई दिल्ली (10 अगस्त): नेशनल इनवेस्टिगेशन एजेंसी ने पाकिस्तानी लश्कर आतंकी बहादुर अली से पूछताछ के बाद कई खुलासे किये हैं। 

एनआईए ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि...  > 25 जुलाई को बहादुर अली को पकड़ा गया था। > हमले के लिए लश्कर ने बहादुर को भारत भेजा था। > बड़े आतंकी ग्रुप के साथ बहादुर को भारत भेजा था। > लश्कर ने पाक आर्मी के साथ मिलकर घुसपैठ कराई। > बहादुर अली ने कबूला की वो पाकिस्तानी है। > बहादुर ने बताया कि वो पाकिस्तान के रायविंड का रहने वाला है। > अल्फा-3 नाम से कंट्रोल रूम में बहादूर को ट्रेनिंग मिली। > जमात-उद-दावा ने बहादुर अली को भर्ती किया था। > अल्फा-3 ने कहा था कि कश्मीर तनाव का फायदा उठाओ। > लश्कर ने मुझे ट्रेनिंग दी थी। > मुज्जफराबाद में बहादुर की दूसरी ट्रेनिंग हुई।

बहादुर ने कहा कि... > मुझे कहा गया कि भारतीय फौज मुस्लिमों पर जुल्म करती है। > पाक में बैठा हैदर घुसपैठ में मदद कर रहा था। > गूगल मैप से भारतीय ठिकानों की जानकारी दी गई। > जम्मू, उधमपुर, दिल्ली के नाम हमें दिए गए। > हमले के लिए लश्कर ने बहादुर को भारत भेजा था। > बुरहान के प्रदर्शन में शामिल होने को कहा गया। > प्रदर्शन के दौरान दंगा कराने को कहा गया।