पठानकोट आतंकी हमले में 'पाक सरकार या एजेंसी का हाथ नहीं'- NIA डायरेक्टर

नई दिल्ली (3 जून): पठनाकोट हमले में एनआईए के डायरेक्टर शरद कुमार ने कहा है कि जांच में ऐसा कोई भी सबूत नहीं मिला है जिससे यह साबित हो कि इस आतंकी हमले में पाकिस्तान सरकार या उसकी किसी एजेंसी ने जैशे मोहम्मद या इसके मुखिया मसूद अज़हर या उसके साथियों की मदद की थी।

अपने इंटरव्यू में शरद कुमार ने बताया कि हमले को लेकर जांच एजेंसी एनआईए ने अपनी पड़ताल पूरी कर ली है। अब एजेंसी पाकिस्तान के बुलावे का इंतजार कर रही है। शरद कुमार ने बताया कि हमारे पास पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मुहम्मद के मौलाना मसूद अज़हर और उनके भाई रउफ अज़हर के ख़िलाफ़ पक्के सबूत हैं। ऐसे में अगर पाकिस्तान जांच के लिए अपने यहां आने की अनुमति नहीं भी देगा तो भी चार्जशीट में इनके नाम शामिल किए जाएंगे।

बता दें कि कुछ महीने पहले पाकिस्तानी जांच दल भारत आया था और पठानकोट में जाकर जांच पड़ताल की थी। इसी आधार पर भारतीय जांच एजेंसी एनआईए भी पाकिस्तान जाने की बात कह रही है और उम्मीद जता रही है कि मंजूरी मिल जाएगी।   इधर, शरद कुमार की बातों पर पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मुहम्मद नफीस जकरिया ने ट्वीट कर कहा कि शरद कुमार की बात से साफ हो जाता है कि पाकिस्तान का क्या रूख है। बता दें कि पंजाब में पठानकोट के एयरबेस स्टेशन पर 2 जनवरी को आतंकियों ने हमला कर दिया था। आतंकियों और सेना के जवानों के बीच 17 घंटे तक चले मुठभेड़ में तीन भारतीय जवान शहीद हो गए थे वहीं जवानों ने पांच आतंकी मार गिराए थे।