'दुनिया भर में नफरत फैलाने का काम कर रहे हैं ये 14 उलेमा'

नई दिल्ली (1 अगस्त): ढाका के होली आर्टिसेन रेस्टोरैंट पर हुए आतंकी हमलों के बाद सुरक्षा एजेंसियों के निगाह में ज़ाकिर नाइक के खिलाफ जांच कर रही एनआईए ने ज़ाकिर जैसे 14 मुस्लिम धर्म गुरुओं को भड़काऊ भाषण देने और युवाओं को आतंकवाद की ओर प्रेरित करने का दोषी माना है। ये कथित मुस्लिम धर्मगुरु अमेरिका,ब्रिटेन, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और ज़िम्बाब्वे में बैठकर षडयंत्र चला रहे हैं।

एनआईए ने कुछ दिनों पहले यह भी दावा किया था कि भारत में पकड़े गये आईएस के एक संदिग्ध ने नवातुल उलेमा लखनऊ के सलमान नदवी की तकरीरें सुनकर ही आतंकवाद का रास्ता अपानाया था। जबकि एक अन्य संदिग्ध ने कहा था कि वो चैन्नै की मक्का मस्जिद के मौलाना शमसुद्दीन कासमी तकरीर सुनकर आईएस को सपोर्ट करने चला था।