NGT का आर्डर लागू हुआ तो #Delhi में होगा संकट

नई दिल्ली (19 जुलाई): नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने राजधानी दिल्ली में 10 साल पुरानी डीजल गाडि़यों पर बैन के आदेश दिए हैं। इसी के साथ इस आदेश को तत्काल प्रभाव से लागू करने के अलावा NGT ने RTO से पुरानी डीज़ल गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन रद्द करने को भी कहा है।

हालांकि परिवहन विभाग के सूत्रों का कहना है कि अगर एनजीटी का आदेश तुरंत प्रभाव से लागू हुआ तो दिल्ली में हाहाकार मच जाएगा। दिल्ली के लोगों को तमाम तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। परिवहन विभाग ने साफ किया है कि एनजीटी का आदेश फिलहाल नहीं मिला है।

होगी यह पेरशानी: - सामान लाने ले जाने वाले 1.28 हजार ट्रक और मिनी ट्रक हैं जिनमें से 90000 के रजिस्ट्रेशन को रद्द करना पड़ेगा।

- 1,61,000 डीजल की प्राइवेट कारें हैं जो 10 साल से ज्यादा पुरानी हैं। - दिल्ली में कुल 13700 डीजल की बसें है, इनमें 11400 बसें बाहर हो जाएगी