एनजीटी ने गंगा के 100 मीटर के दायरे को 'नो डेवलपमेंट जोन' घोषित किया

नई दिल्ली (13 जुलाई): नेश्नल ग्रीन ट्रिब्युनल ने गंगा सफाई पर एक बड़ा आदेश दिया है। एनजीटी ने उत्तराखंड के हरिद्वार और उत्तर प्रदेश के उन्नाव के बीच गंगा किनारे को 'नो डेवलपमेंट जोन' घोषित किया है।


एनजीटी ने गंगा की स्वच्छता को लेकर यह फैसला लिया है जिसके तह्त हरिद्वार और उन्नाव के बीच गंगा किनारे के 100 मीटर के दायरे को 'नो डेवलपमेंट ज़ोन' घोषित किया गया है।

इसके अलावा एनजीटी ने गंगा किनारे के 500 मीटर के दायरे में कचरे के निस्तारण पर रोक लगाई है। एनजीटी ने कहा है कि हरिद्वार से उन्नाव तक के गंगा किनारे पर 500 मीटर के दायरे में कूड़ा नहीं फेंका जाना चाहिए।


साथ ही एनजीटी ने कहा है कि नियमों का उल्लंघन करने और कूड़ा फेंकने का दोषियों पर 50 हजार रुपये तक के जुर्माना लगाया जाएगा।