वैष्णो देवी में रोजाना 50 हजार श्रद्धालु ही जा पाएंगे: एनजीटी

नई दिल्ली(13 नवंबर): वैष्णो देवी यात्रा पर एनजीटी ने आदेश दिया है। एनजीटी ने कहा है कि वैष्णो देवी के दर्शन के लिए एक दिन में 50,000 यात्री ही जा सकेंगे। इसके बाद लोगों को कटरा या अर्द्धकुमारी में रोक दिया जाएगा। वहां सभी नए निर्माणों पर भी रोक लगा दी गई है।

-जस्टिस स्वतंत्र कुमार की अध्यक्षता में एनजीटी बेंच ने कहा कि धार्मिक स्थल पर पर्यटन को ध्यान में रखते हुए रोजाना 50 हजार से ज्यादा यात्रियों को एंट्री न की जाए। अगर संख्या ज्यादा है तो इन्हें अर्द्धकुंवारी या कटरा में ही रोक दिया जाए, चूंकि वैष्णो देवी भवन की क्षमता 50 हजार से ज्यादा लोगों की नहीं है।

- सोमवार को ट्रिब्यूनल ने एक पिटीशन पर सुनवाई की। इसमें वैष्णो देवी धाम में घोड़े और पालकी के इस्तेमाल पर बैन लगाने और पॉल्यूशन को लेकर कार्रवाई की मांग की गई है। इस पर एनजीटी ने जम्मू-कश्मीर सरकार से जवाब मांगा है।

- एनजीटी ने कहा कि अथॉरिटी 40 करोड़ की लागत से बने नए रास्ते को 24 नवंबर तक यात्रियों के खोले। इसके लिए ज्यादा वक्त नहीं दिया जा सकता है। अगर फैसले पर फौरन अमल नहीं हुआ तो संबंधित अथॉरिटी के खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है।

- बता दें कि पिछले साल भी एनजीटी ने श्राइन बोर्ड के सीईओ से सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट (MSW) और सीवेज ट्रीटमेंट प्लान्ट (STPs) को लेकर रिपोर्ट दाखिल करने को कहा था।