#JashneYoungistan: कलम की जादूगर अद्वैता काला को 'न्यूज24' ने सम्मानित किया

नई दिल्ली (27नवंबर): कहते हैं कि अगर कोई बात दिल से कही जाए तो दुनिया सुनती है। शब्दों को दिल की कलम से लिखने वाली ऐसी ही जादूगर हैं अद्वैता काला। फिल्म अंजाना-अंजानी और कहानी की स्टोरी लिखने वाली अद्वैता को आज सभी जानते हैं। लेकिन इस मुकाम तक पहुंचने के लिए अद्वैता को काफी संघर्ष करना पड़ा। कम उम्र में ही दुनिया घूम चुकीं अद्वैता कभी होटल कारोबार में करियर बनाना चाहती थीं लेकिन दिल कुछ और कह रहा था। उन्होंने दिमाग की जगह दिल की बात सुनी, और फिर लिखने के जुनून के लिए बाकी सब कुछ छोड़ दिया। अंग्रेजी में पहला नॉवेल लिखा- ऑलमोस्ट सिंगल। ये वक्त से आगे की कहानी थी, पाठकों ने इसे हाथों हाथ लिया और आज अद्वैता की कलम की सारी दुनिया कायल है।

 

कलम की जादूगर अद्वैता काला को 'न्यूज 24'  नेे अपने खास कार्यक्रम जश्न-ए-यंगिस्तान सम्मानित किया।  अद्वैता काला को केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने न्यूज 24 की ओर से सम्मानित किया।