जश्न-ए-यंगिस्तान: 'पतंजलि' के एमडी बालकृष्ण को आज सम्मानित करेगा 'न्यूज24'

ई दिल्ली(27नवंबर): युवा देश का भविष्य होता है। नई और युवा सोच ही देश को आगे लेकर जाती है, आज का युवा ही न्यू इंडिया का आधार रख रहा है। ये न्यू इंडिया ही है जो विश्व में अपना प्रभाव छोड़ रहा है। विश्व आपकी ओर देख रहा है और ये मौका है सफलता का जश्न मनाने का। ऐसे में 'न्यूज 24'  27 नवंबर को जश्न-ए-यंगिस्तान के जरिए देश के युवाओं को सम्मानित करेगा। इस खास कार्यक्रम में न्यूज 24 पतंजलि आयुर्वेद के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ बालकृष्ण को सम्मानित करेगा। 

बालकृष्ण के बारे में...

पतंजलि... वो नाम जो हिंदुस्तान में सबसे बड़ा स्वदेशी ब्रांड बन चुका है। और इस पतंजलि आयुर्वेद का चेहरा हैं योगगुरू बाबा रामदेव, लेकिन कंपनी के दिमाग हैं आचार्य बालकृष्ण। बाबा रामदेव के सबसे भरोसेमंद आचार्य बालकृष्ण पतंजलि आयुर्वेद के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ हैं। कंपनी में वो 94% की हिस्सेदारी रखते हैं। 70 हजार करोड़ की दौलत के साथ वो देश के आठवें सबसे अमीर शख्स हैं। बावजूद इसके सादे सफेद वस्त्र पहनने वाले बालकृष्ण शान-ओ-शौकत से दूर रहते हैं। वो पतंजलि के लिए रोज 15 घंटे से ज्यादा काम करते हैं। लेकिन कोई सैलरी नहीं लेते हैं। उन्होंने आजतक कोई छुट्टी नहीं ली है। ये आचार्य बालकृष्ण की मेहनत और जुनून का ही नतीजा है कि पतंजलि विदेशी कंपनियों के छक्के छुड़ा रही है। और उम्मीद है कि पतंजलि 2021 तक दुनिया की सबसे बड़ी एफएमसीजी कंपनी बन जाएगी।  जश्न ए यंगिस्तान में आचार्य बालकृष्ण को न्यूज़ 24 का सलाम।