WATCH: फर्जी सर्टिफिकेट से किडनी ट्रांसप्लांट का गंदा धंधा

इंद्रजीत कुमार, मुंबई (20 जुलाई): मुंबई किडनी रैकेट मामले में इसके मास्टरमाइंड ब्रिजेंद्र बिसेन का नया वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में वो खुद कुबूल रहा है कि किस तरह वो फर्ज़ी कागज़ात के ज़रिए किडनी ट्रांसप्लांट करता था। इसके साथ ही पुलिस ने एक एजेंट को भी गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने किडनी रैकेट मामले के बड़े एजेंट यूसुफ बिस्मिल्लाह को गुजरात से गिरफ्तार किया है। किडनी ट्रांसप्लांट के लिए गुजरात में गरीब और मजबूर लोगों को डोनर के रूप में तैयार करता था। इसी ने पैसों के लिए हीरानंदानी हॉस्पिटल में मीटिंग फिक्स की थी।

किडनी रैकेट के अहम गवाह आबिद शेख... एक दिन पहले ही हमने आपको किडनी रैकेट के शिकार उस शख्स से मिलवाया था जिसकी किडनी निकाल ली गई थी और पैसे भी नहीं दिए गए थे। उसी ने आबिद शेख के साथ मिलकर इस किडनी रैकेट का भंडाफोड़ करने में मदद की थी।

फर्जी दस्तावेज़:

ये वो दस्तावेज़ हैं जो अवैध तरीके से किडनी ट्रांसप्लांट के लिए बनाए गए थे। इलेक्शन आईडी कार्ड, मैरिज सर्टिफिकेट, आधार कार्ड सब कुछ फर्जी। सबसे हैरानी की बात है कि हीरानंदानी के एक डाक्टर का ब्लैंक सिग्नेचर किया हुआ लेटर हेड भी मिला है।

वीडियो:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=dV-Caawu4cY[/embed]