BREAKING: रोमांचक मुकाबले में न्यूजीलैंड हारी टीम इंडिया

नई दिल्ली (20 अक्टूबर): दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेले गए पांच वनडे मैचों की सीरीज के दूसरे मुकाबले में टीम इंडिया को 6 रन से शिकस्त का सामना करना पड़ा। 243 रनों के लक्ष्‍य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम 49.3 ओवर में 236 रन ही बना सकी।

भारत की तरफ से केदार जाधव ही सर्वाधिक 41 रन बना सके। जबकि कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 39 और पिछले मुकाबले में मैन ऑफ द मैच रहे हार्दिक पाड़ेय ने 36 रन बनाए।

इससे पहले न्यूजीलैंड की टीम ने कोटला में टीम इंडिया के सामने 243 रनों का टारगेट रखा। कीवी बल्लेबाज आज शुरुआती तो अच्छी की थी, लेकिन स्लोग ओवरों में भारतीय गेंदबाजों ने कीवियों के पैर उखाड़ दिए। कप्तान विलियम्सन जहां शतक लगाने में सफल रहे, वही दूसरी तरफ बाकी कीवी बल्लेबाज एक बार सरेंडर के मूड में ही नजर आए।

फिरोजशाह कोटला पर न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों ने जिस अंदाज में शुरुआत की थी उसे देखते हुए लग रहा था कि न्यूजीलैंड की टीम बड़ा स्कोर बनाने में कामयाब होगी। हालांकि उमेश यादव ने मैच के दूसरे ही गेंद पर मार्टिन गुप्टिल को चलता कर दिया था। लेकिन दूसरी तरफ कप्तान केन विलियम्सन जमे रहे और भारत दौरे पर पहली बार शतक लगाने में भी कामयाब हुए। विलियम्स का लेथम ने साथ भी दिया और 120 रनों की साझेदारी की।

विलियम्स 118 रनों की पारी खेल कर आउट हुए जिसके बाद कीवी बल्लेबाजों ने एक बार सरेंडर कर दिया। अमित मिश्रा की घूमती गेंदों के आगे कीवी बल्लेबाज एक बार फिर से असाहय नजर आए। अमित मिश्रा के साथ जसप्रीत बुमराह ने भी न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों को खासा परेशान किया। एक समय जहां ऐसा लग रहा था कि न्यूजीलैंड की टीम 300 का आंकड़ा पार करेंगी वही स्लोग ओवरों में भारतीय गेंदबाजों ने कीवियों पर नकेल कस दी।

वैसे शुरुआत में कोटला के पिच से भी बल्लेबाजों को ही मदद मिल रही थी। कोटला पर गेंदबाजों के लिए ना तो बाउंस थी और ना ही पिच में उछाल। (9, 10 और 22 वें ओवर में है) नतीजा नीचे रहती गेंदों पर कीवी बल्लेबाजों ने जमकर शॉट्स भी खेले।  गेंदबाजों ने शुरुआत तो अच्छी नहीं की थी, लेकिन 40 ओवर के बाद अपने अंदाज में वापसी की।