पाक से आये हिंदुओं के लिए सैंटा बने मोदी, जिलाधिकारी 100 रुपये में देंगे भारतीय नागरिकता

नई दिल्ली (23 दिसंबर): मोदी सरकार ने पाकिस्तान से आने वाले हिंदुओं को नये साल का तोहफा एक जनवरी से पहले ही दे दिया है। अब पाकिस्तान से आने वाले हिंदुओं को भारतीय नागरिकता के लिए दिल्ली के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। अब पाकिस्तान से आने वाले हिंदु जिस राज्य में होंगे वहीं के जिलों के डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट को भारतीय नगारिकता प्रदान कर सकेंगे। दूसरा बड़ा तोहफा यह है कि पहले नागरिकता प्रार्थनापत्र के साथ 15 हजार रुपये का शुल्क लिया जाता था। अब उस शुल्क को घटा कर मात्र 100 रुपये कर दिया गया है। मोदी सरकार ने जिन राज्‍यों के जिलाधिकारियों को यह अधिकार दिया गया है वे राजस्‍थान, छत्‍तीसगढ़, गुजरात, मध्‍य प्रदेश, उत्‍तर प्रदेश, महाराष्‍ट्र और दिल्‍ली (पश्चिम और दक्षिण) हैं। इस समय पाकिस्तान से आने वाले हिंदुओं की सबसे ज्यादा संख्या राजस्थान, दिल्ली, पंजाब और उत्तर प्रदेश में है।