3जी-4जी में सिम का अपग्रेडेशन उपभोक्ता की मर्जी के बिना नहीं होगा

नई दिल्ली (6 सितंबर): दूरसंचार विभाग ने सिम का उन्नयन (अपग्रेडेशन) 2जी से 3जी या 4जी करने के संबंध में नए नियम जारी किए हैं। इन सिम को मोबाइल उपभोक्ता की सहमति और उनके आग्रह के बाद ही एक्टिवेट किया जाएगा। अपग्रेडेशन के लिए नए सिम कार्ड जारी करने संबंधी दिशानिर्देश एक सितंबर से प्रभावी माने जायेंगे।

इसमें कहा गया है कि उपभोक्ता को सिम के अपग्रेडेशन का आग्रह लाइसेंसी को कस्टमर केयर या ऑनलाइन वेबसाइट के जरिए अथवा लाइसेंसी के पॉइंट ऑफ सेल के जरिए करना होगा। आग्रह मिलने के बाद लाइसेंसी उपभोक्ता को नया सिम कार्ड जारी करेगा। इन नए नियमों से सिम के स्वाचालित अपग्रेडेशन पर रोक लगेगी। कुछ ऑपरेटरों द्वारा ऊंचे मूल्य की सेवाएं देने के लिए सिम का ऑटोमेटिक अपग्रेडेशन किये जाने की शिकायतें सरकार को मिलीं थीं।