ऐसे उठाएं ईपीएफओ की नई सुविधाओं का फायदा

नई दिल्ली (18 अगस्त): ईपीएफओ एक ऐसा फॉर्म लेकर आया है जिसे सब्सक्राइबर्स को अपना पेंशन तय करने के लिए फॉर्म को एंप्लॉयर से अटेस्ट करवाने की जरूरत नहीं है। 10-D नाम का यह फॉर्म एंप्लॉयर्स के अटेस्टेशन के बिना भी अपना पेंशन तय करने की सुविधा देगा। इसके साथ ही ईपीएफओ ने अपने एक पुराने फैसले को भी लागू किया है।  

अभी एंप्लॉयीज पेंशन स्कीम 1995 के तहत पेंशन पाने के लिए सब्सक्राइबर्स को पेंशन क्लेम करने वाले ऐप्लिकेशन फॉर्म को अपने एंप्लॉयर्स से सत्यापित (अटेस्टेड) करवाना पड़ता है ताकि सुपरऐनुएशन (मच्योरिटी पूरी होने के बाद अकाउंट बरकरार रखना) के बाद पेंशन फिक्स की जा सके।

ईपीएफओ ने 58 साल की उम्र के बाद भी पेंशन नहीं लेने वाले अपने मेंबर्स के लिए भी कुछ घोषणाएं की हैं। अब ईपीएफओ मेंबर्स के पास अपने पेंशन से जुड़े फायदों में इजाफे का विकल्प होगा।