फेसबुक यूजर्स के लिए खुशखबरी, अब ऐसे पहचाने फेक आईडी

नई दिल्ली (21 दिसंबर): अपने यूजर्स के लिए फेसबुक एक नया फीचर लेकर आया है, जिसकी मदद से अब फेक आईडी के बारे में आसानी से पता लगाया जा सकता है। यह नया फीचर फर्जी अकाउंट से आने वाली फ्रेंड रिक्वेस्ट को भी रोक सकेगा।

फेसबुक के ग्लोबल हेड ऑफ सेफ्टी ऐंटिगन डेविस ने बताया कि अगर किसी यूजर ने किसी को ब्लॉक कर दिया है और वह दोबारा एक नया अकाउंट बनाकर फिर से यूजर से कॉन्टैक्ट करने की कोशिश करता है तो यह फीचर इसकी पहचान कर इसे रोक देगा। यह नया टूल यूजर्स को मेसेंजर कन्वर्सेशन को इग्नोर करने और सेंडर को ब्लॉक किए बिना उसके मेसेज को इनबॉक्स से बाहर करने का भी ऑप्शन देता है।

डेविस ने कहा, 'अब आप मेसेज पर टैप कर कन्वर्सेशन को इग्नोर कर सकते हैं। इससे आपके पास नोटिफिकेशन नहीं आएगा और कन्वर्सेशन अपने आप फिल्टर्ड मेसेजेस फोल्डर में मूव हो जाएगा। इस नए फीचर से यूजर्स बिना सेंडर के जाने मेसेज को पढ़ भी सकेंगे। अभी यह फीचर केवल वन ऑन वन कन्वर्सेशन के लिए है लेकिन जल्द ही यह ग्रुप मेसेज के लिए उपलब्ध होगा।'

उन्होंने कहा कि इस फीचर से फेक अकाउंट्स की पहचान की जा सकेगी और हर रोज ऐसे लाखों बनने वाले अकाउंट्स को रजिस्ट्रेशन के समय ही ब्लॉक किया जा सकेगा। हम अब आईपी अड्रेस जैसे अलग-अलग विभिन्न सिग्नलों का इस्तेमाल कर रहे हैं ताकि इसकी पहचान की जा सके कि यूजर द्वारा पहले से ब्लॉक किए गए व्यक्ति द्वारा दोबारा फेक अकाउंट बनाए जाने की पहचान की जा सके और वह दोबारा यूजर को फ्रेंड रिक्वेस्ट नहीं भेज सके।