नेपाल ने शुरु किये भारत से संबंध सुधारने के प्रयास, दीप काठमाण्डू वापस

नई दिल्ली (10मई): नेपाल सरकार ने भारत से अपने राजदूत को दीप कुमार उपाध्याय को देश लौटने की चिट्ठी भेज दी है। चिट्ठी मिलने के तुरंत बाद दीप कुमार उपाध्याय ने कार्यभार सौंप दिया है। नेपाली मीडिया ने दीप कुमार उपाध्याय को वापस बुलाने की खबरें पहले ही प्रसारित कर दीं थीं। इतना ही नहीं नेपाल के सबसे चर्चित और प्रमुख अखबार ने संपादकीय में नेपाल की कार्यवाई को हड़बड़ाहट और बचकाना हरकत तक करार दिया था।

बहरहाल, अब कहा जा रहा है कि नेपाल सरकार पिछले दिनों हुए घटनाक्रम से खुद को उबारने के लिए भारत के साथ संबंधों को फिर से पटरी पर लाने के प्रयास में लग गयी है। वहीं भारत ने घर के मसलों को दुनिया के सामने लाने पर भीतरी तौर पर नाखुशी ज़ाहिर की है, मगर प्रत्यक्ष तौर पर भारत की ओर से कोई प्रतिक्रिया अभी तक नहीं आयी है। नेपाल के उप प्रधानमंत्री कमल थापा और सिंचाई मंत्री पोखरेल ने कहा है कि भारत के साथ सचिव स्तरीय बैठकें तय समय पर हो रही हैं। ऊर्जा और जल प्रबंधन परियोजनाओँ पर भारत लगातार नेपाल का सहयोग कर रहा है।