'नेपाली पीएम प्रचंड ने झारखंड में ली नक्सली ट्रेनिंग'


नई दिल्ली(16 मई): झारखंड की राजधानी रांची में सरेंडर करने वाले कुख्यात नक्सली कुंदन पाहन ने नेपाल के पीएम पुष्पकमल दहल  प्रचंड को लेकर खुलासा किया है। पाहन ने कहा कि साल 2000 में प्रचंड के साथ उसने झुमरा पहाड़ पर हथियार चलाने की ट्रेनिंग ली थी। 15 लाख के इनामी नक्सली कमांडर कुंदन पाहन ने रविवार को पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है। उस पर 128 से अधिक मामले दर्ज हैं।


- मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिरक कुंदन और प्रचंड हथियार चलाने की ट्रेनिंग वेस्ट बंगाल के शीर्ष माओवादी नेता मनीष दा ने दिया था। इसमें प्रचंड के साथ लगभग 20 अन्य लोग थे। प्रचंड नेपाल के प्रधानमंत्री के साथ-साथ नेपाल की कम्युनिस्ट पार्टी के सशस्त्र अंग जनमुक्ति सेना के शीर्ष नेता हैं। सरेंडर के बाद पुलिस ने पाहन को 15 लाख का चेक सौंपा।


- बताया जाता है कि कुंदन पाहन ने साल 2000 में नक्सली संगठन ज्वाइन किया था। उसने कई बड़ी वारदातों को अंजाम दिया है। वह इतना कुख्यात हो चुका था कि केंद्रीय गृह मंत्री रहे पी चिदंबरम की डायरी में झारखंड के इस नक्सली का नाम था। माओवादियों के बीच वह सबसे खूंखार कमांडर माना जाता था। उसके खिलाफ 50 केस खूंटी और 42 रांची में दर्ज है।