मधेसी मोर्चा की मांग पर नेपाल सरकार एक कदम आगे बढ़ी

नई दिल्ली (14 जनवरी): नेपाली प्रधानमंत्री केपी शर्मा के आवास पर तीनों प्रमुख दलों की बैठक में तय किया गया है कि मधेसी मोर्चा की मागों को संसद की संवैधानिक सभा के सामने 19 जनवरी को पेश किया जायेगा। गौरतलब है कि मधेसी मोर्चा सरकार पर लगातार गैर जिम्मेदाराना व्यवहार का आरोप लगाता रहा है। मोर्चा ने कल ही कहा था कि मांगो के निपटारे के लिए गठित की गयी टास्कफोर्स के सदस्य गंभीर नहीं हैं। मोर्चा के इस तरह के बयान आने के बाद प्रधानमंत्री ने अपने आवास पर नेपाली कॉंग्रेस, सीपीएन-यूएमएल, और यूसापीएन-एम के साथ बैठक की। इस बैठक में सभी लोग इस बात पर सहमत हुए कि राज्यों के पुनर्निधारण के लिए गठित होने वाले तंत्र को संवैधानिक दर्जा दिया जाये। नेपाली प्रधानमंत्री के इस कदम पर अब मधेसी मोर्चा की प्रतिक्रिया आनी शेष है।