मधेसियों के लिए बदला जायेगा नेपाली संंविधान

नई दिल्ली (7 अक्टूबर ): मधेसी और अन्य जातीय समूहों की मांगों को पूरा करने के लिए नेपाल का संविधान बदला जाएगा। बीते साल लागू संविधान की पहली वर्षगांठ पिछले महीने ही मनाई गई है। नेपाल के शहरी विकास मंत्री अर्जुन नरसिंह ने बताया कि सरकार ने जातीय समूहों की मांगों को पूरा करने की प्रक्रिया में तेजी लाने का फैसला किया है।

इसके लिए अगले कुछ हफ्तों में संविधान संशोधन का प्रस्ताव संसद में पेश किया जाएगा। उन्होंने कहा कि संविधान लागू होना एक ऐतिहासिक क्षण था, क्योंकि लोग लंबे समय से लोकतांत्रिक अधिकारों और स्वतंत्रता के सपने देख रहे थे। अब इसमें संशोधन कर समाज के सभी वर्गों के लिए इसे स्वीकार्य बनाने भी उतना ही महत्वपूर्ण है।