फाइलों से बड़ा खुलासा- नेताजी की बेटी को कांग्रेस से मिलते थे 6000 रुपए

नई दिल्ली (23 जनवरी): नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती के मौके पर पीएम मोदी ने शनिवार को सुभाषचंद्र बोस से जुड़ी सीक्रेट फाइलों को पब्लिक कर दिया। इसमें निकल कर आया है कि नेताजी की बेटी अनीता बोस को कांग्रेस से 6000 रुपए सालाना मिलते थे। 1964 तक ये पैसे उन्हें मिले। 1965 में उनकी शादी हो गई जिसके बाद उन्हें ये पैसे मिलना बंद हो गया। हालांकि नेताजी की पत्नी ने इन पैसों को लेने से इनकार किया था।  

फाइलों में एक चिट्ठी भी सामने निकलकर आई है। जवाहर लाल नेहरू की इंग्लैंड के तब के पीएम क्लीमेंट एटली को चिट्‌ठी लिखी थी, जिसमें नेहरू ने बोस को वॉर क्रिमिनल कहा था। ये चिटि्ठयां नेहरू ने 27 दिसंबर, 1945 को लिखी थीं। लेकिन इसके नीचे नेहरू का सिर्फ नाम लिखा है। उनका सिग्नेचर नहीं है।

बोस फैमिली की मौजूदगी में इन्हें जारी किया गया।पहली बार में 100 फाइलें पब्लिक की गईं। नेताजी की मौत से जुड़े सच को सामने लाने का सिलसिला ममता बनर्जी ने पिछले साल सितंबर में शुरू किया था। इसके बाद केंद्र पर इन्हें पब्लिक करने का दबाव बढ़ गया था। पीएम ने नेताजी पर एक पोर्टल भी लॉन्च किया है। इस पोर्टल पर नेताजी से जुड़ी पब्लिक की गई हैं। http://netajipapers.gov.in

देश की आजादी के महानायक नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मौत क्या वाकई विमान हादसे में हुई थी। 70 साल से ये सवाल मुकम्मल जवाब का इंतजार कर रहा है। सरकार का दावा है कि 18 अगस्त 1945 को ताइवान में हुए विमान हादसे में गई थी नेताजी की जान। लेकिन नेताजी से जुड़े लोग इससे इत्तेफाक नहीं रखते। नेताजी की मौत से जुड़ी फाइलें सार्वजनिक होने के बाद अब इससे पर्दा उठने की उम्मीद हैं।