NSG पर जापान ने किया भारत का समर्थन, चीन को दिया बड़ा झटका

नई दिल्ली (5 सितंबर): जापान ने एनएसजी को लेकर भारत का समर्थन कर चीन को करारा झटका दिया है। जापान ने कहा है कि परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनसएसजी) में भारत की सदस्यता और मौजूदगी से परमाणु अप्रसार को बढ़ावा में मदद मिलेगी।

जापानी विदेश मंत्रालय के शीर्ष अधिकारियों ने अंग्रेजी अखबार 'टाइम्स ऑफ इंडिया' से एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा, 'हम एनएसजी में सदस्यता को संभव बनाने के लिए भारत के साथ लगातार काम कर रहे हैं।'

जापानी विदेश मंत्रालय के अधिकारी यासुकिरा कावमोरा ने कहा, 'हम इस मुद्दे पर भारत के साथ काम करते रहना चाहते हैं, क्योंकि हमें लगता है कि भारत की सदस्यता से परमाणु अप्रसार व्यवस्था को ताकत मिलेगी। जापान एनएसजी के दूसरे सदस्य देशों के साथ इस मुद्दे पर लगातार बातचीत करता रहेगा।'

भारत की दावेदारी का समर्थन करते हुए भी जापान परमाणु अप्रसार संधि (एनपीटी) को लेकर अपनी प्रतिबद्धता पर कायम है। कावमोरा ने कहा कि जापान सामान्य भावना के साथ भारत को इस समझौते पर दस्तखत करने को कहता रहेगा। हालांकि, टोक्यो ने एनएसजी में एंट्री के लिए भारत की मदद की राह में उसके एनपीटी पर दस्तखत नहीं करने वाले राष्ट्र के दर्जे को बाधक नहीं बनने दिया।