पुतिन ने मोदी से मिलकर की ये घोषणा, उड़ी चीन-पाक की नींद

नई दिल्ली (3 जून): रूस की यात्रा पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मिलकर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने दोनों देशों के बीच कई बड़ी व्यापारिक घोषणा की। लेकिन इन सबके बीच दोनों देशों के साथ मिलकर विमान बनाने की घोषणा ने पाकिस्तान और चीन के होश उड़ा दिए।

इस मौके पर पुतिन ने कहा कि रूस और भारत के बीच आर्थिक सहयोग पुन: वृद्धि के रास्ते पर लौट रहा है। दोनों देशों ने 19 परियोजनाओं पर सहमति जताई है। इसमें नई तकनीक, दवा, कृषि, विमान, ऑटोमोबाइल विनिर्माण, हीरा उद्योग और परिवहन ढांचे के लिए संयुक्त उपक्रम गठित करने पर सहमति शामिल है।

इस सकारात्मक रूझान को मजबूत करना दोनों देशों के हक में है। हमारी बातचीत हमेशा गर्मजोशी के साथ दोस्ताना माहौल में होती है और यह हमेशा विस्तृत और फलदायक होती है। इस बार भी यह कोई नई बात नहीं है। सेंट पीटर्सबर्ग घोषणा-पत्र में जिन समझौतों पर सहमति जताई गई है उसमें राजनीतिक, आर्थिक और सांस्कृतिक क्षेत्र में द्विपक्षीय संबंधों को अधिक व्यापक बनाने के लिए उठाए जाने वाले कदमों की रूपरेखा प्रस्तुत की गई है।