NCP सांसद पर बिल्ली की पिटाई का आरोप

नई दिल्ली(14 अगस्त): पुणे में शहर की पूर्व मेयर और एनसीपी पार्टी से राज्यसभा सांसद वंदना चौहान के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है। सांसद वंदना पर  एक बिल्ली को पीटकर अपाहिज करने का आरोप है।

- वंदना के खिलाफ जानवरों पर अत्याचार का मामला दर्ज किया गया है। शिकायत करने वाले के मुताबिक ये घटना 2014 की है लेकिन सांसद की ऊंची पहुंच के कारण पहले पुलिस ने मामला दर्ज करने से आनाकानी की और जब अदालत में केस दर्ज किया तो सुनवाई में दो साल लग गए, अब अदालत ने सुनवाई करके अक्तूबर की चार तारीख को इस सांसद को कोर्ट में हाजिर रहने के लिए समन भेजा है।

- शिकायतकर्ता विजय नावडीकर बताते है कि एक दिन हमारी बिल्ली बहुत जोर-जोर से दर्द से कराह रही थी, मैंने नीचे जाकर देखा तो नीचे वंदना चौहान और उसकी देवरानी दोनों के हाथ में डंडा और लोहे का रोड था और बिल्ली वहां नीचे थी, तो मैं बिल्ली को पहले ऊपर लाया और दवा लगाई और बाद में उनको पूछा के ऐसा क्यों किया तो उन्होंने स्वीकार नहीं किया और उल्टा मुझे ही गालियां दीं. बिल्ली को देखने के बाद ही पता चलता है कि बिल्ली को कितनी बुरी तरीके से किसी ने जख्म पहुंचाया है।

- ये बिल्ली अब आम बिल्ली की तरह चल नहीं सकती, वो रेंगते हुए ही चलती है।. इस मसले पर सांसद वंदना चौहान से फोन पर बात हुई तो उन्होंने कहा कि शिकायतकर्त्ता गलत इल्जाम लगा रहा है। बिल्ली की पिटाई करने का कोई कारण नहीं है। उल्टा बिल्ली से सोसाइटी के सारे लोग परेशान हैं। छह से आठ बिल्लियां सोसाइटी में गंदगी करती हैं। वहीं पड़ोसियों के मुताबिक शिकायतकर्त्ता ने उन्हें बताया था कि बिल्ली को जख्म किसी गाड़ी के टक्कर के कारण हुई थी। शिकायतकर्त्ता सोसाइटी का डिफॉल्टर है और आए दिन सोसाइटी के लोगों को परेशान करता है।