गिरिराज सिंह के बयान को मिला नजमा का साथ

नई दिल्ली (25 अप्रैल): दो बच्चों के कानून पर बीजेपी सांसद गिरिराज सिंह के बयान को केंद्रीय मंत्री नजमा हेपतुल्ला का साथ मिला है। नजमा ने गिरिराज के सुर में सुर मिलाते हुए कहा कि आबादी नियंत्रण का कानून तो पहले ही बन जाना चाहिए था।

नजमा ने कहा कि इस मामले में गिरिराज सिंह ने मुझे ज्वाइन किया है। मैं ये बात पिछले 15 सालो से कह रही हूं। न हवा बढ़ रही है न पानी, न ज़मीन। ज्यादा बच्चे से खुद का और देश का नुक्सान है। मैं खुश हूं कि गिरिराज जी ने ये मुद्दा उठाया। इस पर नियम बनना चाहिए। उन्होंने कहा, मैं खुद दोषी हूं कि मेरे तीन बच्चे हैं, उस समय तक नॉर्म्स बन गए होते ते मैं भी दो पर ही रूक जाती।

गिरिराज का 'जनसंख्या' राग, '2 बच्चे पैदा करने का बने कानून' गिरिराज सिंह ने कहा था कि देश में हिंदुओं की संख्या लगातार गिर रही है और इसे रोकने के लिए देश में नए कानून की जरूरत है। अगर सख्त कानून नहीं बना तो हमें भी अपनी बेटियों को पाकिस्तान की तरह पर्दे में बंद करके रखना पड़ेगा। मलेशिया और इंडोनेशिया के कानून का हवाला देते हुए उन्होंने हिंदुस्तान में इस मुद्दे पर बहस की जरूरत बताई। उनके इस बयान पर सियासी संग्राम छिड़ा हुआ था।